जलियांवाला बाग नवीकरण कार्य : राहुल गांधी की आलोचना के बावजूद अमरिंदर सिंह ने की तारीफ

राहुल गांधी ने NDTV की खबर शेयर करते हुए लिखा था कि जलियांवाला बाग के शहीदों का ऐसा अपमान वही कर सकता है जो शहादत का मतलब नहीं जानता. मैं एक शहीद का बेटा हूं- शहीदों का अपमान किसी क़ीमत पर सहन नहीं करूंगा. हम इस अभद्र क्रूरता के खिलाफ हैं.

जलियांवाला बाग नवीकरण कार्य : राहुल गांधी की आलोचना के बावजूद अमरिंदर सिंह ने की तारीफ

जलियांवाला बाग के नवीनीकरणकार्य को लेकर अमरिंदर सिंह ने राहुल गांधी ने अलग प्रतिक्रिया दी है

नई दिल्‍ली :

भारतीय स्‍वाधीनता आंदोलन की अहम पहचान रहे जलियांवाला बाग के नवीकरण कार्य (Jallianwala Bagh renovation) की कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) द्वारा की गई आलोचना के कुछ घंटों बाद ही पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh)ने 'अलग' बयान दिया है. कैप्‍टन अमरिंदर ने नवीकरण के कार्य के बारे में कहा, मुझे तो यह बहुत अच्‍छा दिख रहा. 'गौरतलब है कि इस मामले पर राहुल गांधी ने NDTV की खबर शेयर करते हुए लिखा था कि जलियांवाला बाग के शहीदों का ऐसा अपमान वही कर सकता है जो शहादत का मतलब नहीं जानता. मैं एक शहीद का बेटा हूं- शहीदों का अपमान किसी क़ीमत पर सहन नहीं करूंगा. हम इस अभद्र क्रूरता के खिलाफ हैं.

नए रूप में दिखेगा जलियांवाला बाग, सोशल मीडिया पर फूटा लोगों को गुस्सा, राहुल गांधी ने भी किया ये ट्वीट


कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यह भी कहा था, ‘जिन्होंने आजादी की लड़ाई नहीं लड़ी, वे उन लोगों को नहीं समझ सकते, जिन्होंने आजादी की लड़ाई लड़ी.' राहुल ने उस खबर का स्क्रीनशॉट शेयर किया जिसमें कहा गया है कि इस स्मारक स्थल की भव्यता को लेकर सोशल मीडिया में लोगों ने गुस्से का इजहार किया है. उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जलियांवाला बाग के पुनर्निर्मित परिसर का उद्घाटन किया है. इस बाग का केंद्रीय स्थल माने जाने वाले ‘ज्वाला स्मारक' की मरम्मत करने के साथ-साथ, परिसर का पुनर्निर्माण किया गया है, वहां स्थित तालाब को एक ‘लिली तालाब' के रूप में फिर से विकसित किया गया है तथा लोगों को आने-जाने में सुविधा के लिए यहां स्थित मार्गों को चौड़ा किया गया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस परिसर में अनेक नई और आधुनिक सुविधाओं की व्यवस्था की गई है जिनमें लोगों की आवाजाही के लिए उपयुक्त संकेतकों से युक्त नव विकसित मार्ग, महत्वपूर्ण स्थानों को रोशन करना, और अधिक वृक्षारोपण के साथ बेहतर भूदृश्य, चट्टान युक्त निर्माण कार्य तथा पूरे बगीचे में ऑडियो नोड्स लगाना शामिल हैं. इसके अलावा मोक्ष स्थल, अमर ज्योति और ध्वज मस्तूल को समाहित करने के लिए भी कार्य किया गया है. (भाषा से भी इनपुट)