कोरोना राहत को लेकर यूथ कांग्रेस प्रमुख, बीजेपी सांसद गौतम गंभीर और AAP विधायक से दिल्‍ली पुलिस ने की पूछताछ

श्रीनिवास ने कहा, 'हमने कुछ भी गलत नहीं किया. यदि हमारा छोटा सा प्रयास कोई जान बचाने में मदद करता है तो हमें ऐसी बातों से डरने की जरूरत नहीं है. '

कोरोना राहत को लेकर यूथ कांग्रेस प्रमुख, बीजेपी सांसद गौतम गंभीर और AAP विधायक से दिल्‍ली पुलिस ने की पूछताछ

कोरोना की राहत सामग्री को लेकर यूथ कांग्रेस के नेता BV श्रीनिवास से पूछताछ की गई

नई दिल्ली:

दिल्‍ली पुलिस ने कोरोना राहत सामग्री को लेकर यूथ कांग्रेस अध्‍यक्ष बीवी श्रीनिवास से पूछताछ की है. श्रीनिवास ने कहा है कि वे राहत/सहायता कार्य नहीं रोकेंगे, उन्‍हें कोई डर नहीं है.राहत सामग्री को लेकर लगाए गए कथित आरोपों को लेकर यह पूछताछ की गई. गौरतलब है कि कोरोना राहत कार्य को लेकर सोशल मीडिया पर श्रीनिवास को काफी प्रशंसा हासिल हुई है.आम आदमी पार्टी (AAP) और बीजेपी के नेताओं ने कहा है कि उनसे भी पूछताछ की गई है.

श्रीनिवास ने कहा, 'हमने कुछ भी गलत नहीं किया. यदि हमारा छोटा सा प्रयास कोई जान बचाने में मदद करता है तो हमें ऐसी बातों से डरने की जरूरत नहीं है. 'इस बीच, NDTV से बात करते हुए 39 वर्षीय श्रीनिवास ने कहा, 'हम अपना काम नहीं रोकेंगे, हम भयभीत नहीं हैं.' श्रीनिवास और उनकी टीम के खिलाफ याचिका में आरोप लगाया गया है कि विभिन्‍न हिस्‍सों के राजनेता कोविड के इलाज के लिए इस्‍तेमाल होने वाली दवाओं के 'अवैध वितरण' में शामिल हैं. उधर, श्रीनिवास से पूछताछ के मुद्दे पर दिल्‍ली पुलिस की ओर से कहा गया है, 'नेताओं के कोविड दवा आदि के 'अवैधानिक वितरण' में शामिल होने को लेकर दीपक सिंह की ओर से याचिका दाखिल की गई है. माननीय हाईकोर्ट दिल्‍ली पुलिस को जांच करने के लिए निर्देश दिए हैं. हाईकोर्ट के आदेश के पालन के तहत दिल्‍ली पुलिस जांच के लिए श्रीनिवास सहित कई नेताओं तक पहुंची है. आज क्राइम ब्रांच की टीम श्रीनिवास के बयान के लिए यूथ कांग्रेस के ऑफिस पहुंची थी.

यूथ कांग्रेस नेता बीवी श्रीनिवास से पूछताछ के मसले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने IStandWithIYC के हैशटैग के साथ ट्वीट किया है. राहुल ने ट्वीट में लिखा हैं, 'बचाने वाला हमेशा मारने वाले से बड़ा होता है.'

बीजेपी सांसद गौतम गंभीर ने इसे उचित प्रक्रिया का गैरजरूरी राजनीतिकरण करार देते हुए बताया कि उनके साथ भी पूछताछ की गई. उन्‍होंने ट्वीट किया, 'विपक्ष को उचित प्रक्रिया के गैरजरूरी राजनीतिकरण में शामिल नहीं होना चाहिए. दिल्‍ली पुलिस ने हमसे जवाब मांग था और हमने उन्‍हें सारा ब्‍यौरा उपलब्‍ध कराया है. मैं दिल्‍ली और इसके लोगों की अपनी क्षमता के अनुसार हमेशा सेवा करता रहूंगा.'

आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक दिलीप पांडे ने कहा है कि उनसे भी पूछताछ की गई. एक ट्वीट में पांडे ने लिखा, 'लोगों की मदद करना भी मोदी सरकार में अपराध हो गया है. मेरा पूरा परिवार कोरोना संक्रमण से पीडि़त है लेकिन क्राइम बांच मुझसे पूछने आई कि आपने लोगों की कैसे मदद की, हमें जवाब दीजिए..मैं एक बार नहीं हजार बार लोगों की मदद करता रहूंगा.' बीजेपी नेता हरीश खुराना ने भी उनके साथ पूछताछ की बात कही है. गौरतलब है क‍ि हाल में एक विवाद सामने आया था जब विदेशी दूतावासों ने ऑक्‍सीजन के लिए कांग्रेस को SOS भेजे थे. कांग्रेस ने दो विदेशी दूतावासों न्‍यूजीलैंड और फिलीपींस, में गंभीर मरीजों को ऑक्‍सीजन सप्‍लाई की थी. ऑक्‍सीजन सिलेंडर की आपूर्ति करने वाली यूथ कांग्रेस ने इस वीडियो को न्‍यूजीलैंड उच्‍चायोग की अपील के साथ ट्वीट किया था.सोशल मीडिया पर इस मसले को लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर और कांग्रेस नेता जयराम रमेश के बीच 'शब्‍दयुद्ध' छिड़ा था. न्‍यूजीलैंड के दूतावास ने यूथ कांग्रेस को अपना ट्वीट डिलीट कर दिया था और एक ट्वीट कर कहा था-हम सभी स्रोतों से ऑक्‍सीजन सिलेंडर की तत्‍काल व्‍यवस्‍था की कोशिाश कर रहे हैं. हमारी अपील का गलत अर्थ निकाला गया जिसका हमें खेद है. गौरतलब है कि क्रिकेटर से राजनेता बने बीवी श्रीनिवास यूथ कांग्रेस के दिल्‍ली ऑफिस में 'वार रूम' का प्रबंधन संभाल रहे हैं. यह ऑक्‍सीजन और दवाओं के लिए अनुरोध पर नजर रखता है और आने वाले ट्वीट पर 'काम' करता है. उन्‍होंने  "SOS IYC" के तहत यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं का नेटवर्क स्‍थापित किया है और कई शहरों में उनके ऐसे ही कंट्रोल रूम हैं. 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com