Budget 2021 में पेट्रोल-डीजल पर लगाया गया कृषि सेस, लेकिन उपभोक्‍ता पर नहीं पड़ेगा अतिरिक्‍त बोझ..

बजट में डीजल और पेट्रोल पर कृषि सेस लगाने का फैसला किया है. पेट्रोल पर ढाई रुपये प्रति लीटर और डीजल पर चार रुपये प्रति लीटर कृषि सेस लगाने का निर्णय लिया गया है.

Budget 2021 में पेट्रोल-डीजल पर लगाया गया कृषि सेस, लेकिन उपभोक्‍ता पर नहीं पड़ेगा अतिरिक्‍त बोझ..

पेट्रोल पर ढाई रुपये प्रति लीटर और डीजल पर चार रुपये प्रति लीटर कृषि सेस लगाया गया है

नई दिल्ली:

Budget 2021: वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से पेश किए गए बजट में डीजल और पेट्रोल पर कृषि सेस लगाने का फैसला किया है.  पेट्रोल पर ढाई रुपये प्रति लीटर और डीजल पर चार रुपये प्रति लीटर कृषि सेस लगाने का निर्णय लिया गया है.हालांकि इस सेस का उपभोक्‍ताओं को अतिरिक्‍त बोझ नहीं पड़ेगा.वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कृषि सेस (Imposition of Agriculture Infrastructure and Development Cess) को बढ़ाने के साथ ही बेसिक एक्‍साइज ड्यूटी और एडीशन एक्‍साइज ड्यूटी के रेट को कम कर दिया गया है. इसके कारण उपभोक्‍ता पर समग्र रूप से कृषि सेस का कोई अतिरिक्‍त भार नहीं पड़ेगा.

FICCI अध्‍यक्ष उदय शंकर ने Budget 2021 को सराहा, कहा-हेल्‍थ सेक्‍टर के लिए बड़ा आवंटन सराहनीय 

इसके साथ ही अनब्रांडेड पेट्रोल (1.4 रुपये प्रति लीटर) और डीजल (1.8 रुपये प्रति लीटर)  बेसिक एक्‍साइज ड्यूटी को आकर्षित करेगा. स्‍पेशल एडीशनल एक्‍साइज ड्यूटी (SAED) के रेट पेट्रोल के लिए 11 रुपये प्रति लीटर और डीजल के लिए आठ रुपये प्रति लीटर है. वित्‍त मंत्री ने बताया कि यह रेट ब्रांडेड पेट्रोल पर भी लागू हैं.


अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए सरकार पूरी तरह से तैयार: वित्त मंत्री

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com