हिमस्खलन की चपेट में आए नेवी के चार पर्वतारोहियों के शव मिले, एक अभी भी लापता

अभी नौसेना के एक पर्वतारोही और एक शेरपा लापता है. इनकी तलाश की हर संभव कोशिश जारी है.

हिमस्खलन की चपेट में आए नेवी के चार पर्वतारोहियों के शव मिले, एक अभी भी लापता

मौसम खराब और बादल छाये होने की वजह से राहत और बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है.

नई दिल्ली:

उत्तराखंड के चमौली जिले में हिमस्खलन की चपेट में आये नौसेना के लापता चार पर्वतारोहियों के शव मिल गए हैं. इनमें लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीकांत यादव, लेफ्टिनेंट कमांडर योगेश तिवारी, लेफ्टिनेंट कमांडर अनंत कुकरेती और एमसीपीओ हरि ओम शामिल हैं. अभी नौसेना के एक पर्वतारोही और एक शेरपा लापता है. इनकी तलाश की हर संभव कोशिश जारी है.  पर्वतारोहियों की खोजबीन और बचाव के कार्य में  नौसेना, वायुसेना और थलसेना के टीम और राज्य सरकार की टीम जोर शोर से लगी है. मौसम खराब और बादल छाये होने की वजह से राहत और बचाव कार्य में दिक्कत आ रही है. 

नौसेना के पर्वतारोही 7120 मीटर ऊंची माउंट त्रिशुल समिट करने गए थे. 20 सदस्यीय पर्वतारोही दल तीन सितंबर को मुंबई से रवाना हुआ था. शुक्रवार की सुबह जब दस पर्वतारोही फाइनल समिट के आखिरी चरण में थे, तभी हिमस्खलन में फंस गए. इनमें पांच को सुरक्षित बचा लिया गया लेकिन बाकी पांच में से चार के शव शनिवार को मिले है. इनकी तलाश के लिए कई सारी एजेंसियों को लगाया गया था. जमीन से लेकर हेलीकॉप्टर की मदद से भी खोज की गई है, तब जाकर चार लापता नौसैनिकों के मिले. लेकिन अभी भी एक नौसैनिक और शेरपा अभी भी लापता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com