आवश्यक चिकित्सा सेवाओं में सहयोग के लिए भाजपा तैयार करेगी एक लाख स्वास्थ्य स्वयंसेवक

असम और पुडुचेरी में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार बनी, इसके लिए सभी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन किया गया. पार्टी की ताकत पश्चिम बंगाल में बढ़ी है.

आवश्यक चिकित्सा सेवाओं में सहयोग के लिए भाजपा तैयार करेगी एक लाख स्वास्थ्य स्वयंसेवक

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

 भाजपा (BJP) ने रविवार को कहा कि आने वाले दिनों में वह चिकित्सीय उपकरणों और अन्य आवश्यक संबंधित सेवाओं में सहयोग देने के लिए देश भर में एक लाख स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की फौज तैयार करेगी. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा देश भर में चलाए गए सेवा कार्यों को लेकर दो दिनों तक चली बैठक में समीक्षा करने के बाद पार्टी ने यह ऐलान किया. भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान पार्टी द्वारा चलाए गए ‘‘सेवा ही संगठन'' कार्यक्रम और हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन की समीक्षा को लेकर महासचिवों व विभिन्न मोर्चों के अध्यक्षों की दो दिवसीय बैठक बुलाई थी.

घर-घर राशन योजना: मनीष सिसोदिया ने कहा- बीजेपी ने साफ कर दिया कि राशन की चोरी चलती रहेगी

नड्डा के आवास पर हुई इस बैठक में नेताओं ने पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद हुई हिंसा की घटनाओं पर भी चर्चा की. बैठक में पार्टी के सभी आठ महासचिव, राष्ट्रीय संगठन महासचिव बी एल संतोष के अलावा युवा मोर्चा, किसान मोर्चा, महिला मोर्चा सहित अन्य मोर्चों के अध्यक्ष शामिल हुए. बैठक के बाद नड्डा और संतोष सभी महासचिवों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करने 7, लोक कल्याण मार्ग स्थित उनके आधिकारिक आवास पहुंचे.

बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में पार्टी महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा कि महामारी के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा किए गए सेवा कार्यों के बारे में एक विस्तृत रिपोर्ट पार्टी अध्यक्ष को सौंपी गई. उन्होंने कहा कि यह फैसला हुआ कि पार्टी देश भर में एक लाख स्वास्थ्य स्वयंसेवक तैयार करेगी ताकि वे वेंटिलेटर्स और उन्य आवश्यक उपकरणों का संचालन कर सकें. ऐसे स्वयंसेवकों को तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘अब कोरोना की दूसरी लहर में कमी आई है. हम सभी जानते हैं कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान अनेक विषयों, जैसे वेंटिलेटर संचालन करना तथा अन्य सामान्य चिकित्सीय जानकारी के लिए वालंटियर की आवश्यकता भी पड़ी है. ऐसे में भाजपा ने यह तय किया है कि पार्टी तथा पार्टी के सभी मोर्चे पूरे देश भर में एक लाख से ज्यादा स्वास्थ्य स्वयंसेवक तैयार करने के अभियान को चलाएंगे.''

यादव ने कहा कि पार्टी के अनुसूचित जनजाति मोर्चे को केंद्र सरकार की ''वन धन योजना'' को जनजातीय समुदाय के बीच प्रोत्साहित करने को कहा गया है जबकि किसान मोर्चे को देश भर में कृषि उत्पादक संगठनों (एफपीओ) पर किसानों को प्रशिक्षित करने की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा गया. इसी प्रकार महिला मोर्चा को कुपोषण मुक्त करने के केंद्र सरकार के ‘‘पोषण अभियान'' को महिलाओं के बीच प्रचारित करने का निर्देश दिया गया. राष्ट्रीय महासचिव ने बताया कि इस दो दिवसीय बैठक में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन की समीक्षा भी की गयी.

उन्होंने कहा, ‘‘असम और पुडुचेरी में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार बनी, इसके लिए सभी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन किया गया. पार्टी की ताकत पश्चिम बंगाल में बढ़ी है. भाजपा तीन सीट से बढ़कर 77 सीट तक पहुंची है और वहां पार्टी का जनाधार मजबूत हुआ है. तमिलनाडु में भी पार्टी का आधार बढ़ा है.''चुनाव बाद पश्चिम बंगाल में हुई राजनीति हिंसा के लिए सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए उन्होंने बताया कि राज्य में ऐसी घटनाएं लगातार हो रही हैं और पार्टी राज्य की जनता के साथ मजबूती से खड़ी है.

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘ चुनाव के बाद तृणमूल कांग्रेस द्वारा प्रायोजित हिंसा के 30 से ज्यादा लोग शिकार हुए हैं जबकि हजारों लोग बेघर हुए हैं. महिलाओं के साथ अपमानजनक बर्ताव हुआ है.'' बैठक में इन घटनाओं की निंदा की गई. भाजपा के एक अन्य महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि पार्टी ने मोदी सरकार की सातवीं वर्षगांठ के मौके पर देश भर में ‘‘सेवा ही संगठन'' अभियान चलाया और इसके तहत पार्टी ने 1.71 लाख गांवों और 60,000 से अधिक शहरी केंद्रों पर राहत अभियान चलाया और इस दौरान चार लाख से अधिक बुजुर्ग और जरुरतमंदों के बीच दवाओं का वितरण किया गया.

उन्होंने बताया कि इसी प्रकार पार्टी की ओर से 1.26 करोड़ मास्क, 31 लाख खाद्यान्न के पैकेट और 19 लाख राशन की किट वितरित की गईं. सिंह ने बताया कि आने वाले दिनों में पार्टी की कार्यकारिणी बैठक और विभिन्न मोर्चों की कार्यकारिणी बैठक डिजिटल माध्यम से ही आयोजित की जायेगी और साथ ही विभिन्न राजनीतिक व सामाजिक महत्व से जुड़े विषयों पर मोर्चों के माध्यम से डिजिटल वेबिनार का आयोजन किया जाएगा.


देश वैक्सीन के लिए तिल-तिल मर रहा और बीजेपी ट्विटर से ब्लू टिक के लिए : पप्पू यादव

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ज्ञात हो कि कोरोना की दूसरी लहर के चलते भाजपा ने मोदी सरकार की सातवीं वर्षगांठ पर कोई बड़ा आयोजन ना करने का फैसला किया था. इस अवसर पर पार्टी की ओर से देश के विभिन्न हिस्सों में सेवा कार्यों का आयोजन किया गया था.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)