'अपने गिरेबां में झांके नीतीश कुमार, लालू चालीसा पढ़ना बंद करें', NDTV से बोलीं लालू की बेटी रोहिणी आचार्य

NDTV से खास बातचीत में रोहिणी ने कहा कि मुख्यमंत्री को लालू चालीसा का पाठ बंद करके अपने गिरेबां में झांकना चाहिए कि उन्होंने 15 वर्षों के कार्यकाल में राज्य की बेहतरी के लिए क्या किया है?

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की बेटी रोहिणी आचार्य (Rohini Acharya) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर हमला बोला है और कहा है कि सीएम नीतीश को अपने पंद्रह साल के कामकाज को देखना चाहिए. NDTV से खास बातचीत में रोहिणी ने कहा कि मुख्यमंत्री को लालू चालीसा का पाठ बंद करके अपने गिरेबां में झांकना चाहिए कि उन्होंने 15 वर्षों के कार्यकाल में राज्य की बेहतरी के लिए क्या किया है?

रोहिणी ने कहा कि वह सोशल मीडिया पर 2007 से एक्टिव हैं और दिल में जो बात आती है, उसे वह वो अपने तरीके से सोशल मीडिया पर रखती हैं. उन्होंने कहा, "मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड ने अंदर से झंकझोरा, सत्ता के संरक्षण में उनके साथ अत्याचार हुआ था. इसलिए मैंने अपनी आवाज़ उठाई." लालू यादव की बेटी रोहिणी ने कहा, "जितना संभव होता है, उतनी लोगों की मदद करती हूं."

रोहिणी ने पूछा कि नीतीश जी ने लालू चालीसा पढ़ने के अलावा आपने क्या किया है? उन्होंने कहा कि आप 15 साल से सरकार में बैठे हैं तो हमें सवाल पूछने का तो अधिकार है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार अपनी नाकामी छुपाने के लिए लालू चालीसा पढ़ते हैं. रोहिणी ने कहा, "जनता कह रही है कि अपने गिरेबां में झांकिए, बिहार के लिए 15 साल में आपने क्या किया?" रोहिणी ने कहा कि जनता की नज़र में तेजस्वी ही मुख्यमंत्री हैं क्योंकि तेजस्वी ने मुद्दों की लड़ाई लड़ी है.

"जनता ने तेजस्वी को चुना था, सिस्टम का दुरुपयोग कर CM बने नीतीश": बोले BJP विधायक

उन्होंने कहा, "पिछले विधान सभा चुनाव में तेजस्वी के नौकरी देने के वादे पर उनका मज़ाक उड़ाया गया. अब जनता तेजस्वी सरकार का इंतज़ार कर रही है और युवा 10 लाख नौकरियों का इंतज़ार कर रहे हैं. किसान लोग सिंचाई का इंतज़ार कर रहे हैं. बिहार में रेंगती हुई स्वास्थ्य व्यवस्था के सुधरने का इंतज़ार लोग कर रहे हैं. सब इंतज़ार कर रहे हैं कि कब इस कुंभकर्णी सरकार की नींद खुले."

रोहिणी ने हमलावर अंदाज में कहा, 15 साल क्यों? नीतीश जी 15 साल की उपलब्धियां बताएं.  उन्होंने कहा, "नीतीश जी जनता का चीरहरण करके सत्ता में बैठे हैं. आज नहीं तो कल इनकी हार सुनिश्चित है. मुझे राजनीति में कोई दिलचस्पी नहीं लेकिन बिहार के लिए आवाज़ उठाती रहूंगी. सिर्फ़ बिहार की जनता की भलाई चाहती हूं. बिहार की जनता को कम से कम मूलभूत सुविधाएं तो मिलें."


बिहार: मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में लड़कियों के लिए 33% आरक्षण, CM नीतीश का ऐलान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उनकी मां राबड़ी देवी पर बनी महारानी वेब सीरीज पर रोहिणी ने कहा, "मैंने महारानी वेब सीरीज़ देखी है, जो जनता के दिलों में रहता है, उसको इमेज सुधारने के लिए वेब सीरीज़ की ज़रूरत नहीं. मेरे पिता जनता के लिए ही जीते हैं. उन्हें छवि सुधारने के लिए किसी सहारे की ज़रूरत नहीं है." उन्होंने कहा, "लालू जी की तबीयत अभी ठीक नहीं है, किडनी 25 फ़ीसदी ही काम कर रही है. उनके स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही की गई. हेल्थ ग्राउंड पर कितनी बार ज़मानत के लिए अप्लाई किया था लेकिन नहीं दिया गया."