कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समाज सुधार यात्रा जारी रखेंगे

बिहार में तीन जनवरी को कोरोना के 352 मामले (Bihar Corona Cases) सामने आए हैं. पिछले कुछ दिनों में राज्य में कोरोना के मामलों में दस गुना से ज्यादा बढ़ोतरी देखी गई है. 

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समाज सुधार यात्रा जारी रखेंगे

नीतीश कुमार बिहार में समाज सुधार यात्रा निकाल रहे हैं

पटना:

कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद भी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने अपनी समाज सुधार यात्रा (Samaj Sudhar Yatra) जारी रखने का फ़ैसला किया है. नीतीश कुमार ने पटना में 15-18 उम्र के युवा के लिए वैक्सीनेशन कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए ये बात कही. नीतीश कुमार की समाज सुधार यात्रा में बड़ी संख्या में लोग आते हैं और वो उनसे रूबरू भी होते हैं.नीतीश कुमार से जब ये पूछा गया कि क्या कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र वो अपनी समाज सुधार यात्रा को स्थगित करेंगे तो उनका कहना था कि हमारी यात्रा तो कल है ही. यह सब देख कर जो भी निर्णय लेना है लिया जाएगा.अभी वैसी स्थिति नहीं आई है.

नीतीश ने कहा कि हम लोग जो मीटिंग करते हैं वो आप जानते ही ना है. अब लोगों को सुरक्षित रखा जाता है, कभी जा करके देख लीजिए, जीविका समूह की दीदियां होती है. उन लोगों को देखें कितनी सुरक्षा से वो आती हैं, बैठती हैं सारी बातें होती हैं. लेकिन उन्होंने माना कि बहुत सारे लोग उनके यात्रा के मद्देनज़र अपनी याचिका लेकर आते हैं. उनका कहना था कि आप जानते हैं कि जब हम जाते हैं तो भीड़ बहुत होती है. सब लोगों के साथ बातचीत करना होता है. उनकी बात हम सुनते हैं और फिर एक समीक्षा बैठक भी होती है. ये सब हो रहा है देखा जाएगा आगे क्या करना है. 

हालांकि नीतीश कुमार ने ये भी घोषणा किया कि मंगलवार शाम को बढ़ते मामलों के बाद किस किस तरह को सावधानी बरतनी है और कौन कौन सी पाबंदियां लगानी हैं, इस पर एक बैठक उन्होंने बुलाई है, जो अगले एक हफ़्ते के लिए फ़ैसला लेगा. नीतीश कुमार के अनुसार फ़िलहाल लंबे समय के लिए कोई दिशा निर्देश की आवश्यकता नहीं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बिहार में तीन जनवरी को कोरोना के 352 मामले (Bihar Corona Cases) सामने आए हैं. पिछले कुछ दिनों में राज्य में कोरोना के मामलों में दस गुना से ज्यादा बढ़ोतरी देखी गई है.