आर्यन खान केस में नए वीडियो पर बोले श‍िवसेना के संजय राउत: NCB ने गवाह से...

मामले में दूसरे अहम गवाह और प्राइवेट डिटेक्टर केपी गोसावी का आर्यन खान से पूछताछ का एक वीडियो साझा करते हुए संजय राउत ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की उस बात का समर्थन किया कि जानबूझकर राज्य को ड्रग्स के मामले में बदनाम किया जा रहा है.

मुंबई:

बॉलीवुड मेगास्टार शाह रुख खान (Shah Rukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) से जुड़े ड्रग्स केस में गवाह प्रभाकर सेल द्वारा रिश्वत के आरोपों के दावे के बाद शिव सेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा है कि पुलिस को इस मामले में स्वत: संज्ञान लेना चाहिए. उन्होंने उन आरोपों पर भी अचरज जताया कि NCB ने गवाह से सादे कागज पर दस्तखत करवाए. मामले में दूसरे अहम गवाह और प्राइवेट डिटेक्टर केपी गोसावी का आर्यन खान से पूछताछ का एक वीडियो साझा करते हुए राउत ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की उस बात का समर्थन किया कि जानबूझकर राज्य को ड्रग्स के मामले में बदनाम किया जा रहा है.

उधर, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने भी आर्यन केस में नया ट्विस्ट आने पर आज नया ट्वीट किया है और लिखा है, "सत्य ही जीतेगा ..सत्यमेव जयते"

नवाब मलिक पिछले कई दिनों से NCB और उसके अधिकारी समीर वानखेड़े पर गंभीर आरोप लगाते रहे हैं.

आर्यन खान केस में ट्विस्ट: एक गवाह का दावा- '18 करोड़ में तय हुई थी डील', NCB का इनकार

बता दें कि आर्यन खान के खिलाफ केस में पंच बनाए गए प्रभाकर सेल ने एक हलफनामा देकर एनसीबी के जोनल प्रमुख समीर वानखेड़े और दूसरे गवाह केपी गोसावी के खिलाफ बड़े आरोप लगाए हैं. आरोप लगाने वाला प्रभाकर केपी गोसावी का बॉडीगार्ड है.

प्रभाकर ने आरोप लगाया है कि उसने केपी गोसावी और सैम को 25 करोड़ रुपये की बात करते सुना था और 18 करोड़ पर बात बन गई है, ऐसा कहते सुना है. प्रभाकर का दावा है कि गोसावी और सैम ने कथित तौर पर 8 करोड़ रुपये NCB अधिकारी समीर वानखेड़े को देने की बात कही थी.


आर्यन खान ने ड्रग्स केस में व्हाट्सऐप चैट को लेकर दी दलील, बोले- "मुझे फंसाया जा रहा है”

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


प्रभाकर ने यह भी दावा किया है कि क्रूज पर छापेमारी के बाद शाहरुख खान की मैनेजर पूजा डडलानी के साथ केपी गोसावी और सैम को नीले रंग की मर्सिडीज कार में एकसाथ करीब 15 मिनट तक बात करते देखा था. प्रभाकर ने कहा कि उसके बाद गोसावी ने उसे फोन किया था और बतौर पंच बनने को कहा था. उसने बताया है कि NCB ने उससे 10 सादे कागज पर हस्ताक्षर करवाए थे. प्रभाकर ने यह भी दावा किया है कि उसने 50 लाख नकदी से भरे 2 बैग गोसावी को दिए हैं.