अरविंद केजरीवाल का आरोप,कोरोना के बढ़ते केस के बावजूद दिल्ली की ऑक्सीजन सप्लाई में की गई  कटौती

CM ने कहा, बढ़ते कोरोना मामलों के साथ ज्यादा चाहिए. सामान्य सप्लाई से ज्यादा सप्लाई बढ़ाने की जगह नॉर्मल सप्लाई भी कम कर दी गई और दिल्ली का कोटा दूसरे राज्यों को भेजा जा रहा है.दिल्ली में ऑक्सीजन इमरजेंसी बन चुकी है

अरविंद केजरीवाल का आरोप,कोरोना के बढ़ते केस के बावजूद दिल्ली की ऑक्सीजन सप्लाई में की गई  कटौती

Delhi oxygen supply shortage

नई दिल्ली:

Delhi Medical oxygen supply shortage :दिल्ली में बढ़ती ऑक्सीजन की किल्लत के बीच सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)  ने केंद्र सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को होने वाली ऑक्सीजन सप्लाई में कटौती की जा रही है. मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा, ऑक्सीजन की भारी किल्लत से गुजर रही है दिल्ली. ऑक्सीजन बढ़ते कोरोना मामलों के साथ ज्यादा चाहिए. सामान्य सप्लाई से ज्यादा सप्लाई बढ़ाने की जगह नॉर्मल सप्लाई भी कम कर दी गई और दिल्ली का कोटा दूसरे राज्यों को भेजा जा रहा है.दिल्ली में ऑक्सीजन इमरजेंसी बन चुकी है. 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखकर मेडिकल ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने की गुहार लगाई है. केजरीवाल ने कहा कि रोजाना 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत हैं और  INOX द्वारा 140 मीट्रिक टन की आपूर्ति बहाल करने की जरूरत है, जो दिल्ली के अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की मुख्य आपूर्तिकर्ता है. 


कोरोना के केस में उछाल के बीच दिल्ली सरकार के 12 अस्पतालों में कुल 1979 नॉर्मल बेड बढ़ाए गए हैं. नॉर्मल बेड की संख्या 5211 से बढ़कर 7200 हुई. इन 12 अस्पतालों में ICU बेड में 696 की बढ़ोतरी हुई. ICU बेड की संख्या 1174 से बढ़ाकर 1870 की गई है.दिल्ली सरकार के इन 12 अस्पतालों में 219 वेंटिलेटर बेड बढ़ाए गए हैं. इनमें 656 की जगह अब 875 वेंटिलेटर होंगे, जो कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व रहेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उधर, दिल्ली में एक दिन में सबसे ज़्यादा कोरोना केस रविवार को दर्ज हुए. पिछले 24 घंटे में 25,462 कोरोना के मामले राज्य में सामने आए हैं. देश में दो लाख 60 हजार से ज्यादा मामलों के बीच दिल्ली में भी मामले तेजी से बढ़े हैं. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट करीब 30 फ़ीसदी हो गया है. वहीं पिछले 24 घंटे में 20159 मरीज स्वस्थ हुए हैं. दिल्ली सरकार के मुताबिक, अस्पतालों में कोरोना के कुल 175514 बेड हैं, इनमें से 13887 बेड भरे हुए हैं. जबकि 3627 ही खाली हैं. दिल्ली में डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर के तहत 5525 बेड हैं, जिनमें से 558 भरे हुए हैं और 4967 खाली हैं. डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर की संख्या 132 है, जिनमें से 96 भरे हुए हैं और 36 खाली हैं.