एम्स ने कोविड-19 संकट के दौरान बड़ा योगदान दिया : हर्षवर्द्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने सोमवार को कहा कि एम्स ने कोविड-19 संकट के दौरान मरीज देखभाल, अनुसंधान एवं शिक्षा में विपुल योगदान दिया है.

एम्स ने कोविड-19 संकट के दौरान बड़ा योगदान दिया : हर्षवर्द्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन ने सोमवार को कहा कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने कोविड-19 संकट के दौरान मरीज देखभाल, अनुसंधान एवं शिक्षा में विपुल योगदान दिया है तथा एम्स कर्मियों द्वारा रोजाना के स्तर पर की जाने वाली जद्दोजहद को याद रखा जाना चाहिए.मंत्री ने डब्ल्यूएचओ एसईएआरओ की क्षेत्रीय निदेशक पूनम खेत्रपाल के साथ एम्स के 47 वें दीक्षांत समारोह की अध्यक्षता की. उन्होंने एम्स की संस्थापक राजकुमारी अमृत कौर की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने आम भारतीयों को विश्वस्तरीय मेडिकल शिक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से धन की कमी को पूरा करने के लिए अन्य देशों एवं अंतरराष्ट्रीय विकास साझेदारों से संपर्क किया.

उन्होंने स्वास्थ्य के क्षेत्र में शानदार प्रदर्शन जारी रखने के लिए संस्थान के निरंतर प्रयास पर प्रसन्नता व्यक्त की. साथ ही उन्होंने आत्मसंतुष्टि एवं ठहराव के विरूद्ध आगाह भी आगाह किया. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, ‘‘ हमें बदलना है और प्रगति करना है. हमें बदलते हुए विश्व में पीछे नहीं छूट जाना चाहिए.'' कोविड-19 संकट के दौरान संस्थान की भूमिका की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि एम्स ने कोविड-19 संकट के दौरान मरीज देखभाल, अनुसंधान एवं शिक्षा में बड़ा योगदान दिया है . उन्होंने कहा, ‘‘भीतर तक हिला देने वाली इस महामारी से हम जब उबर रहे हैं तो हमें एम्स बिरादरी द्वारा रोजाना के स्तर पर की जाने वाली जद्दोजहद को भी याद रखना चाहिए. हमारे चिकित्सक हमारे असली नायक हैं.'' 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com