गर्भावस्था में हैं साइटिका के दर्द से हैं परेशान, तो रखें इन बातों का ख्याल, दर्द में मिलेगी राहत

यह परेशानी बल्‍जिंग डिस्‍क (bulging disc) के कारण साइटिव नर्व के दब जाने से शुरू होती है. यह दर्द तेज और हल्का हो सकता है. इसे राहत पाने के लिए हल्के-फुल्के एक्सरसाइज के साथ हॉट वॉटर बैग की सिकाई की जा सकती है.

गर्भावस्था में हैं साइटिका के दर्द से हैं परेशान, तो रखें इन बातों का ख्याल, दर्द में मिलेगी राहत

गर्भवस्था में हैं साइटिका के दर्द से परेशान तो करें ये उपाय

नई दिल्ली:

Sciatica Pain: गर्भावस्था में महिलाओं का अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना जरूरी है. यह महिला और उसके होने वाले बच्चे के लिए बहुत आवश्यक है. इन पूरे नौ महीने में महिला के शरीर में कई बदलाव होते हैं. इन बदलावों के साथ उन्हें कई तरह के दर्द का सामना भी करना पड़ता है. ये दर्द कहीं भी हो सकते हैं. अमूमन महिलाएं गर्भावस्था में पैरों में दर्द, बैक पेन जैसी परेशानियों से जूझती हैं. कई बार उन्हें कुल्हे या लोअर बैक से पैरों तक दर्द भी हो सकता है, यह दर्द आम नहीं बल्कि साइटिका ( Sciatica) का दर्द हो सकता है. यह परेशानी बल्‍जिंग डिस्‍क (bulging disc) के कारण साइटिव नर्व के दब जाने से शुरू होती है. यह दर्द तेज और हल्का दोनों में से कुछ भी हो सकता है. बता दें कि यह दर्द एक साइड में होता है. इस दर्द में कुछ घरेलू उपायों को करके राहत पाई जा सकती है. तो आइए जानते हैं साइटिका के दर्द से राहत पाने के उपाय….

Heatwave को लेकर मौसम विभाग की चेतावनी, बिहार, बंगाल समेत 9 राज्यों में लगेंगे लू के थपेड़े, सूरज बरसाएगा आग 

हॉट वॉटर बैग

जहां दर्द हो रहा हो वहां हॉट वॉटर बैग से सेकें. इससे उस बॉडी पार्ट में ब्लड फ्लो बढ़ जाएगा और मशल्स रिलैक्स हो जाएंगी. हॉट वॉटर बैग से सूजन कम करने में भी मदद मिलती है.

ज्यादा देर न बैठें

साइटिका के दर्द से बचने के लिए एक ही स्थिति में देर तक रहने से बचना चाहिए. इसके साथ ही सही पोस्चर का भी ध्यान रखना चाहिए. खड़े होने से लेकर बैठने तक के पोस्चर का. अगर आप एक्टिव रहते हैं तो मांसपेशियों का खिंचाव नहीं होगा और दर्द शुरू नहीं होगा.

नर्व फ्लॉसिंग

वैसे तो गर्भावस्था में हल्के-फुल्के व्यायाम करते ही रहना चाहिए. अगर साइटिका है तो व्यायाम जरूर करें. मसल्स को रिलैक्स रखने के लिए हल्के व्यायाम जरूरी हैं. इसके लिए बैठे-बैठे पैर हिलाना, पैरों को सीधा करना, बार- बार पैर को घुटनों से मोड़ना, आगे पीछे झुकना जैसे व्यायाम करते रहना चाहिए.

गर्मियों में त्वचा की देखभाल के आसान टिप्‍स, हटेगी टैनिंग और दमक उठेगा चेहरा...

पीछे झुकने के व्यायाम

पीछे झुकने के व्यायाम स्पाइनल एक्सटेंशन मसल्स को एक्टिव कर देते हैं. ये मसल्स बैक से पीठ तक होते हैं जो सीधा खड़ा रहने में मददगार होते हैं. इसके लिए कोबरा पोज सबसे बेहतर है.

आगे झुकने से बचें

जिन्हें साइटिका की समस्या है उन्हें आगे झुकने से बचना चाहिए. आगे झुकने से स्पाइन के डिस्क और मसल्स पर स्ट्रेस पड़ता है, जो दर्द को बढ़ा सकता है.

Tips To Boost Fertility: प्रजनन क्षमता को बढ़ाने के लिए करें ये 7 काम, आज ही छोड़ दें ये आदतें...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.