Covid-19 Omicron: कोरोना की तीसरी लहर से करें बच्चों और बुजुर्गों का बचाव, अपनाएं ये जरूरी उपाय

कोरोना वायरस का सबसे अधिक असर उन लोगों पर होता है जिनकी इम्यूनिटी लो है. बच्चों और बुजुर्गों की इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, लिहाजा इन दो आयु वर्ग के लोगों को अधिक सावधानी और देखभाल की जरूरत है. 

Covid-19 Omicron: कोरोना की तीसरी लहर से करें बच्चों और बुजुर्गों का बचाव, अपनाएं ये जरूरी उपाय

कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते मामले देश में कोरोना की तीसरी लहर का संकेत दे रहे हैं.

खास बातें

  • ओमिक्रोन के बढ़ते मामले देश में कोरोना की तीसरी लहर का संकेत दे रहे हैं.
  • बच्चों और बुजुर्गों की इम्यून सिस्टम कमजोर होती है.
  • कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों और बुजुर्गों को इस तरह रखें सुरक्षित

Covid 19 third wave in India: कोरोना की दूसरी लहर ने देश भर को डर का एक ऐसा चेहरा दिखाया कि लोग तीसरी लहर के नाम ही कांप जा रहे हैं. कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते मामले देश में कोरोना की तीसरी लहर का संकेत दे रहे हैं. देश में एक बड़ी आबादी का टीकाकरण हो जाने के बावजूद कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. जैसा कि अब जाहिर हो चुका है, कोरोना वायरस का सबसे अधिक असर उन लोगों पर होता है जिनकी इम्यूनिटी लो है. बच्चों और बुजुर्गों की इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, लिहाजा इन दो आयु वर्ग के लोगों को अधिक सावधानी और देखभाल की जरूरत है. 

 

हम यहां कुछ उपाय बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप कोरोना की तीसरी लहर से अपने बच्चों और घर के बुजुर्गों को सुरक्षित रख सकते हैं. 

जागरूक करें

बच्चों और बुजुर्गों दोनों को ही साफ-सफाई को लेकर जागरूक करें. आप बच्चों को रेगुलर हाथ धोने की आदत डलवाएं. साथ ही मास्क लगाने और फिजिकल डिस्टेंसिंग के बारे में जागरूक करें. बच्चों को सिखाएं कि वो खांसते या छींकते समय अपना रुमाल मुंह पर जरूर रखे लें.

k03tb2a

खान-पान का दें ध्यान

बच्चों और बुजुर्गों दोनों के ही संक्रमित होने का खतरा अधिक होता है क्योंकि इनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. ऐसे में आपको बच्चों और बुजुर्गों को ऐसे फूड्स खिलाने चाहिए जिसमें भरपूर न्यूट्रिएंट्स, विटामिन्स, आयरन, मिनरल और फाइबर भी हों. जैसे पालक, खजूर, दूध, घी, बादाम, खट्टे फल आदि. 

बाहर न जाएं

बुजुर्गों में डायबिटीज, किडनी की परेशानी, बीपी आदि समस्याएं अधिक देखी जाती हैं. इससे इनकी रोग से लड़ने की क्षमता और भी कमजोर होती है. लिहाजा बुजुर्गों को कोरोना काल में घर पर ही रहने की सलाह दी जाती है. बहुत जरूरत हो तब ही घर से निकलें, ऐसे में डबल लेयर मास्क जरूर लगाएं. बच्चों के साथ भी कुछ ऐसी ही कोशिश करें कि वे भी घर में ही रहें, स्कूल बंद चल रहे हैं. खेलने के लिए भी उन्हें बाहर न भेजें.

in70jlag

Photo Credit: iStock

योग का सहारा

बुजुर्ग नियमित रूप से एक्सरसाइज करें. सुबह उठकर भले 15-20 मिनट के लिए ही योग करना जरूरी है, इससे इम्यून सिस्टम बूस्ट होता है. इसके साथ ही बुजुर्गों को लेकर इस बात का खास ख्याल रखें कि उनका हाइपरटेंशन, शुगर और कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहे, ताकि उनके संक्रमित होने का खतरा कम हो. सरकार 60 वर्ष के ऊपर के लोगों के लिए बूस्टर डोज लगाने की शुरुआत करने वाली है, इसे लगवाएं ताकि आप सुरक्षित रहें.

Expert Explains: पहले ही जानें कि प्रोस्‍टेट कैंसर होगा या नहीं!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.