Childhood Obesity: बच्चों का मोटापा घटाने में बेहद मददगार हैं ये 5 योग आसन, आज से ही शुरू कर दें

Yoga For Children: आपके बच्चे का वजन भी बढ़ रहा है और वह एक्टिव नहीं है तो कुछ योग आसन के जरिए आप बच्चे की लाइफस्टाइल में बदलाव ला सकते हैं. ये आसन बच्चों में वेट लॉस के लिए खासतौर से प्रभावी हैं.

Childhood Obesity: बच्चों का मोटापा घटाने में बेहद मददगार हैं ये 5 योग आसन, आज से ही शुरू कर दें

Solutions Of Child Obesity: बच्चे कुछ योग प्रैक्टिस से वजन कम करने में सफल हो सकते हैं.

How To Reduce Child Obesity: आजकल बच्चे अपना अधिकतर समय स्मार्टफोन, लैपटॉप या टीवी के साथ बिताते हैं. ऐसे में बैठे-बैठे न ही सिर्फ बच्चों का वजन बढ़ता है, बल्कि सुस्त लाइफस्टाइल उन्हें बीमारियों की ओर भी धकेलती है. आपके बच्चे का वजन भी बढ़ रहा है और वह एक्टिव नहीं है तो कुछ आसान के जरिए आप बच्चे की लाइफस्टाइल में बदलाव ला सकते हैं. ये आसन बच्चों में वेट लॉस के लिए खासतौर से प्रभावी हैं.

योगासन जो बच्चों को फिट रखने में मददगार हैं | Yoga Asanas That Help Keep Kids Fit

1) पवनमुक्तासन

  •  पीठ के बल लेट जाएं और पैरों को सीधा रखें.
  •  धीरे-धीरे सांस लें और अपने पैरों को सीधे 45 डिग्री तक ऊपर उठाएं.
  • अब सांस छोड़ें और अपने पैरों को अपने घुटनों पर अपनी छाती की ओर तब तक मोड़ें जब तक कि आपकी जांघ आपके पेट को न छू ले. अपने घुटनों को गले लगाएं और फिर अपनी उंगलियों को लॉक करें.
  • धीरे से अपने सिर को ऊपर उठाएं और अपनी नाक की नोक को घुटनों से छूने की कोशिश करें. इस आसन को 30 सेकंड तक करें, लेकिन आप अपनी क्षमता के अनुसार इसे एक मिनट तक बढ़ा सकते हैं.
  • सांस लें और फिर अपने सिर को नीचे लाएं और अपने पैरों को सीधा कर लें और आराम करें.

पवनमुक्तासन के फायदे:

अगर आपके बच्चे को अपच या एसिडिटी जैसी पेट की समस्या है तो पवनमुक्तासन बहुत मददगार हो सकता है. अपने पेट के अंगों को मजबूत करने के लिए यह एक बेहतरीन अभ्यास है.

केला, काली किशमिश और बादाम किसे खाना चाहिए? इन्हें खाने का सही समय और तरीका भी जान लीजिए

2) त्रिकोणासन

  • सांस भरते हुए अपने पैरों को करीब एक मीटर की दूरी पर फैला लें और दोनों हाथों को कंधे की सीध में ऊपर उठाएं
  • धीरे-धीरे अपनी दाहिनी ओर झुकें जब तक कि आपका दाहिना हाथ आपके दाहिने पैर तक न पहुंच जाए. आपका बायां हाथ सीधे ऊपर होना चाहिए, आपके दाहिने हाथ की सीध मे.
  • आपकी हथेलियां आगे की ओर होनी चाहिए.
  • नार्मल ब्रीदिंग के साथ अगर संभव हो तो इस पोजिशन को लगभग एक मिनट तक बनाए रखें.
  •  धीरे-धीरे पहले वाले पोजिशन में वापस आएं और अपने बाएं हाथ की तरफ से दोहराएं.

त्रिकोणासन के फायदे:

वजन कम करने में आपकी मदद करने के अलावा, यह आसन आपकी रीढ़ की हड्डी के लचीलेपन में सुधार करता है. यह आपके कूल्हों, हैमस्ट्रिंग, कंधों, छाती और रीढ़ को भी स्ट्रेच करता है.

Brisk Walking या जॉगिंग जानें Weight Loss के लिए कौन सी एक्सरसाइज है बेस्ट, जानें लाजवाब फायदे

3) वक्रासन

  • अपने पैरों को लगभग एक मीटर की दूरी पर फैला लें.
  • फिर सांस लें और अपने हाथों को कंधे के स्तर पर, जमीन के समानांतर उठाएं और सुनिश्चित करें कि आपकी हथेलियां नीचे की ओर हों.
  • सांस छोड़ते हुए अपने पैरों को ज़मीन पर टिका कर रखें, अपने दाहिने हाथ को सीधा रखते हुए दाईं ओर मुड़ें और बाएँ हाथ को कोहनी पर छाती के पास झुकाएं.
  • साथ ही साथ अपनी गर्दन को भी घुमाएं और अपने दाहिने हाथ की उंगलियों के सिरे को देखें.
  • इस मुद्रा में कुछ देर रुकें फिर सांस भरते हुए वापस आ जाएं

वक्रासन के फायदे:

वजन कम करने में ये कारगर है, साथ ही आपके शरीर में फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाता है.

सर्दियों में इन 8 हेल्दी स्नैक्स को बनाएं अपना दोस्त वजन को कंट्रोल रखने में होगी आसानी

4) पादहस्तासन

  •  पैरों को मिलाकर सीधे खड़े हो जाएं.
  •  फिर सांस लेते हुए धीरे-धीरे अपनी भुजाओं को ऊपर की ओर उठाएं, और अपने शरीर को अपनी कमर से ऊपर उठाएं.
  •  सांस छोड़ते हुए कमर के निचले हिस्से से आगे की ओर झुकें और तब तक नीचे जाएं जब तक कि आपकी हथेली जमीन को न छू ले. ऐसा करते हुए अपने माथे को घुटनों से छूने की कोशिश करें.
  •  अपने घुटनों को न मोड़ें और सामान्य सांस लेते हुए लगभग एक मिनट तक अंतिम पोजीशन बनाए रखें.
  • फिर सांस लें और धीरे-धीरे ऊपर आएं और अपनी भुजाओं को ऊपर की ओर फैलाएं.
  •  सांस छोड़ते हुए अपनी बाहों को नीचे करें और आराम करें.

पादहस्तासन के लाभ:

इससे रीढ़ की हड्डी और पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं. यह पाचन में सुधार करता है और पेट की चर्बी कम करने में मदद करता है साथ ही सिर क्षेत्र की ओर रक्त प्रवाह को भी बढ़ाता है.

तुलसी का पानी, हल्दी वाला दूध और जिंजर लेमन वाटर समेत 5 ड्रिंक्स वाकई मजबूत करती हैं इम्यूनिटी

5) गरुड़ासन

  • सीधे खड़े हो जाएं फिर धीरे-धीरे अपना वजन अपने बाएं पैर पर ले जाएं और अपनी दाहिनी जांघ को अपनी बाईं जांघ पर लाने की कोशिश करें. अपने दाहिने पैर को अपने बाएं काल्फ के पीछे पकड़ने की कोशिश करें या आप इसे जमीन पर रख सकते हैं.
  • अपनी बायीं कोहनी को अपने दायीं ओर से क्रॉस करें और अपनी हथेलियों को एक साथ छूने की कोशिश करें.
  • 10 काउंट के लिए इसे संतुलित करने का प्रयास करें और दूसरी तरफ दोहराएं.

गरुड़ासन के फायदे:

यह फोकस और एकाग्रता में सुधार करता है और शरीर को टोन करने में मदद करता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.