Char Dham Yatra 2022: चार धाम यात्रा के दौरान इन बातों का रखें ध्यान, वर्ना गलतियां पड़ सकती हैं भारी...

Char Dham Yatra 2022: अगर आप भी चार धाम की यात्रा कर रहे हैं या करने जा रहे हैं, तो आप उत्तराखंड सरकार द्वारा हेल्थ एडवाइजरी में बताई गई इन खास बातों का ध्यान जरूर रखें.

Char Dham Yatra 2022: चार धाम यात्रा के दौरान इन बातों का रखें ध्यान, वर्ना गलतियां पड़ सकती हैं भारी...

Char Dham Yatra 2022: चार धाम की यात्रा 3 मई 2022 से शुरू हो गयी.

Char Dham Yatra 2022:  कोरोना महामारी के कारण पिछले दो साल से चार धाम की यात्रा बंद थी. इस साल फिर से चार धाम की यात्रा 3 मई 2022 से शुरू हो गयी. भक्त अपने आराध्य भोलेनाथ के दर्शन के लिए उमड़ पड़े और दुखद बात ये रही की यात्रा के शुरूआत में ही कई लोगों की जान चली गई. चार धाम यात्रा के दौरान अभी तक (16 मई तक)  लगभग 41 लोगों की मौत हो गई है. उत्तराखंड सरकार की रिपोर्ट के अनुसार श्रद्धालुओं की मौत का प्रमुख कारण यात्रा मार्ग में ऑक्सीजन की कमी है. मौत के अन्य कारणों में हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट संबंधी बीमारियां, पहाड़ी पर चढ़ने संबंधी बीमारियां भी शामिल हैं. तो अगर आप भी चार धाम की यात्रा कर रहे हैं या करने जा रहे हैं, तो आप उत्तराखंड सरकार द्वारा हेल्थ एडवाइजरी में बताई गई इन खास बातों का ध्यान जरूर रखें. 

 

चार धाम यात्रा के दौरान श्रद्धालु इन बातों का रखें ध्यान-

1. कौन लोग न करें यात्रा-

अगर आप कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं तो आप चार धाम यात्रा में जाने से बचें. वृद्ध लोग भी यात्रा करने से बचें, क्योंकि इन्हें ऑक्सीजन संबंधित समस्या हो सकती है. इसलिए इन्हें कम भीड़-भाड़ होने के बाद जाना चाहिए. 

weakness

वृद्ध लोग भी यात्रा करने से बचें. Photo Credit: iStock

2. आराम जरूर करें-

पहाड़ी पर चढ़ने से थकान होना आम बात है. ऐसे में आपको बीच में एक दिन का आराम जरूर करना चाहिए. क्योंकि लगातार चलने से शरीर में कई समस्याएं हो सकती हैं.

3. इन बातों का रखें ध्यान-

अगर आपको हार्ट संबंधी समस्या है या आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो खास ध्यान रखें. अगर आपको रास्ते में चक्कर आ रहे हैं, हाथ पैर कांप रहे हैं तो आप तुरंत शिविर में रुक कर जांच कराएं तभी आगे जाएं. वर्ना सेहत को नुकसान पहुंच सकता है.

4. पानी का रखें ध्यान-

लगातार चलने और धूप से शरीर को बचाने के लिए पानी और जूस जैसी लिक्विड चीजों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें. खाली पेट यात्रा पर न निकलें इससे सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है.

5. गर्म कपड़े-

पहाड़ी इलाकों में ठंड रहती है. इसलिए अगर आप चार धाम की यात्रा पर जा रहे हैं, तो आप अपने साथ गर्म कपड़े जरूर रखें. इसके साथ बारिश से बचने के लिए रेनकोट भी ध्यान से रखें.

Polycystic Ovary Syndrome (PCOS): डाइट कंट्रोल करेगी पीसीओएस! जानें Expert से...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.