डायबिटीज से हैं परेशान, कंट्रोल करना चाहते हैं ब्लड शुगर लेवल, अपनाएं ये तरीके

एक हेल्दी नाश्ता ना केवल ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में मदद करता है बल्कि वजन घटाने में भी काफी मदद करता है.

डायबिटीज से हैं परेशान, कंट्रोल करना चाहते हैं ब्लड शुगर लेवल, अपनाएं ये तरीके

Diabetes Diet: डायबिटीज बेहद तेजी से फैल रहा है. अपने आहार में स्वस्थ खाद्य पदार्थों को शामिल करना हमेशा से स्वास्थ्य के लिहाज से सही माना जाता है. इसी वजह से मधुमेह रोगियों को सलाह दी जाती है कि वे ऐसे विशिष्ट खाद्य पदार्थों का ध्यान रखें, जो समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं. डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है जहां शरीर में पर्याप्त इंसुलिन नहीं होता है, जो ग्लूकोज को शरीर की कोशिकाओं में प्रवेश करने और ऊर्जा में बदलने के लिए अवरुद्ध करता है. मधुमेह का प्रबंधन काफी हद तक जीवन शैली और आहार संशोधनों पर निर्भर करता है. मधुमेह रोगियों के लिए यह आवश्यक है कि वे चीनी युक्त भोजन छोड़ दें और कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों को शामिल करें. तो ऐसा आहार लें जो डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करे. डायबिटीज दो तरह का होता है. टाइप 1 डायबिटीज और टाइप 2 डायबिटीज. टाइप 2 डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है जिसमें अग्न्याशय पर्याप्त इंसुलिन बनाने में असमर्थ हो जाता है जिसमें ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए वैकल्पिक तरीकों की जरूरत होती है. इसके लिए आप दूध को आहार में शामिल कर सकते हैं. अगर आप इसे नाश्ते में शामिल करते हैं तो यह अच्छा विकल्प साबित हो सकता है.

Manage High Blood Pressure: क्या हाई बीपी को ठीक करने में मददगार है दही या योगर्ट?

कैसे दूध करता है टाइप 2 डायबिटीज को कंट्रोल | Milk Products and Type 2 Diabetes

हाल ही में जर्नल ऑफ डेयरी साइंस में प्रकाशित एक शोध में यह बात सामने आई है कि सुबह के नाश्ते में दूध का शामिल करने से ग्लूकोज को कंट्रोल किया जा सकता है. यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के सहयोग से ह्यूमन न्यूट्रास्युटिकल रिसर्च यूनिट के शोधकर्ताओं ने टोरंटो विश्वविद्यालय के साथ मिलकर नाश्ते में प्रोटीन युक्त भोजन के बारे में बताया है. जैसे सुबह नाश्ते में दूध क सेवन किया जा सकता है, ये शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करेगा और साथ ही ग्लूकज की मात्रा को भी बढ़ने से रोकेगा. इसके अलावा भूख को भी कम करता है. दूध में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में मदद करता है. इसके साथ ही ये आपको हेल्दी रखता है और खाना पचाने में भी मदद करता है.

Type 2 diabetes: जानें डायबिटीज डाइट के बारे में, कैसा हो मधुमेह रोगी का आहार

5tk2j9c

Diabetes-Friendly Diet: डायबिटीज के लक्षणों को पहचान कर अपने आहार में सही बदलाव करें. Photo Credit: iStock

वहीं एक हेल्दी नाश्ता ना केवल ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में मदद करता है बल्कि वजन घटाने में भी काफी मदद करता है. दूध प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत होने के अलावा, कैल्शियम का भी एक बड़ा स्रोत माना जाता है. दूध में पोटेशियम भी पाए जाते हैं जो रक्तचाप के स्तर को नियमित करने में मदद करता है.

डायबिटीज में क्या खाएं | Diabetes-Friendly Diet

डायबिटीज की शुरुआत में ही आहार पर ध्यान देना जरूरी है. जैसे ही डायबिटीज के बारे में पता चले तुरंत आहार में सही बदलाव करें. अपने आहार में दाल और सब्जियों का सेवन करना चाहिए. आप नाश्ते में इसे सलाद के रूप में भी ले सकते हैं, इसके अलावा अंकुरित अनाज और दाल, दलिया, दिरदा, डोसा या इडली मुंग, चना, लोबिया, उड़द ये सभी चीजें भी नाश्ते में खा सकते हैं. ये आपके शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद करेगा. दाल में 50-60 फीसदी अधिक फाइबर वाले कार्बोहाइड्रेट पाए जाते हैं जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को नहीं बढ़ने देता है. वहीं इसमें प्रोटीन, विटामिन भी पाए जाते हैं.

डायबिटीज के मरीजों को अपने खान पान का खासा ध्यान रखना होता है ऐसे में उन्हे नॉन-स्टार्च सब्जियों का सेवन करना चाहिए जैसे आर्टिचोक, चुकंदर, शतावरी, ब्रोकोली, लाइकोपीन युक्त टमाटर, ब्लूबेरी, स्ट्रॉबेरी, रसभरी और ब्लैकबेरी, खट्टे फल, नट और बीज शामिल हैं.

नोट: अपने आहार में कोई भी बदलाव करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com