अग्निपथ योजना के खिलाफ दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी, बिहार में युवाओं ने रेल पर किया पथराव, पुलिस ने खदेड़ा; 10 बातें

अग्निपथ योजना के खिलाफ दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी है. खासकर बिहार में युवा केंद्र की योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. बुधवार को बिहार के मुजफ्फरपुर, आरा, बक्सर, बेगूसराय में प्रदर्शन की खबरें सामने आईं थी. वहीं, गुरुवार को प्रदेश के जहानाबाद में प्रदर्शन की खबर सामने आ रही है.

अग्निपथ योजना के खिलाफ दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी, बिहार में युवाओं ने रेल पर किया पथराव, पुलिस ने खदेड़ा; 10 बातें

अग्निपथ योजना के खिलाफ जहानाबाद में प्रदर्शन कर रहे युवा

पटना: अग्निपथ योजना के खिलाफ दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी है. खासकर बिहार में युवा केंद्र की योजना के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. बुधवार को बिहार के मुजफ्फरपुर, आरा, बक्सर, बेगूसराय में प्रदर्शन की खबरें सामने आईं थी. वहीं, गुरुवार को प्रदेश के जहानाबाद में प्रदर्शन की खबर सामने आ रही है. यहां युवाओं ने अग्निपथ स्कीम के विरोध में काको मोड़ के समीप आगजनी कर एनएच-83 और एनएच-110 को जाम कर दिया है. वहीं, वे केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर की नारेबाजी कर रहे हैं. इधर, कुछ युवा रेलवे ट्रैक पर भी धरना दे रहे हैं, जिससे पटना-गया रेललाइन पर आवागमन बाधित हो गई हैं. 

विरोध प्रदर्शन से जुड़े अपडेट

  1. कैमूर जिले में युवाओं के प्रदर्शन की खबर आ रही है. जिले के भभुआ रोड स्टेशन पर युवाओं द्वारा ट्रेनों में तोड़फोड़ की जा रही. पथराव के कारण इंटरसिटी एक्सप्रेस के कई शीशे टूट गए हैं. प्रदर्शकारियों द्वारा ट्रेन की बोगी में आग भी लगाई गई है.

  2. सहरसा में सेना भर्ती की परीक्षा रद्द होने और आयुसीमा कम करने के विरोध में अभ्यर्थियों ने ट्रेन रोक विरोध प्रदर्शन किया. अभ्यर्थियों ने दिल्ली जाने वाली क्लोन हमसफर, वैशाली सुपरफास्ट और पटना जाने वाली राजरानी सुपरफास्ट ट्रेन को घंटों से रोक रखा है.

  3. बिहार के जहानाबाद में ट्रैक जाम कर रहे छात्रों ने ट्रेन पर पथराव किया है. इस घटना में कई लोगों को चोटें आईं हैं. पत्थरबाजी जहानाबाद स्टेशन के समीप हुई, जिसके बाद पुलिस ने छात्रों को खदेड़ कर रेलवे ट्रैक को खाली कराया.

  4. बता दें कि बिहार के विभिन्न जिलों में 17 साल से 21 साल तक के युवाओं को चार साल के लिए सेना में संविदा पर भर्ती करने और अधिकतर को बिना पेंशन व ग्रेजुएटी को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने की केंद्र द्वारा शुरू की गई ‘अग्निपथ योजना' का विरोध करते हुए बुधवार को युवाओं ने रेल और सड़क यातायात बाधित किया. 

  5. बक्सर जिले में 100 से अधिक की संख्या में रेलवे स्टेशन पहुंचे युवा पटरियों पर बैठ गए, जिससे पटना जाने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस की आगे की यात्रा लगभग 30 मिनट तक बाधित रही. प्रदर्शनकारियों ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा मंगलवार को घोषित योजना के खिलाफ नारेबाजी की.

  6. युवाओं का यह विरोध-प्रदर्शन आरपीएफ पोस्ट प्रभारी दीपक कुमार तथा जीआरपी थानाध्यक्ष रामाशीष प्रसाद के नेतृत्व में पहुंची पुलिस टीम द्वारा समझाने पर समाप्त हुआ. प्रदर्शनकारियों द्वारा पाटलिपुत्र एक्सप्रेस पर कथित तौर पर पथराव किए जाने की खबरों के बारे में पूछे जाने पर आरपीएफ पोस्ट प्रभारी तथा जीआरपी थानाध्यक्ष ने ऐसी घटना से इनकार किया. 

  7. मुजफ्फरपुर शहर में बड़ी संख्या में सेना के उम्मीदवारों ने चक्कर मैदान, जहां वे बड़ी संख्या में शारीरिक परीक्षण के लिए आते हैं जो जवानों की भर्ती के लिए अनिवार्य हैं, के चारों ओर सड़कों पर टायर जलाकर अपना आक्रोश प्रकट किया. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वे सशस्त्र बलों के लिए आवश्यक शारीरिक परीक्षण उत्तीर्ण कर चुके हैं, लेकिन पिछले दो साल से कोई भर्ती नहीं हुई है. उन्होंने सेना में भर्ती की पुरानी व्यवस्था बहाल करने की मांग की.

  8. सेना में भर्ती के कई उम्मीदवारों ने कलेक्ट्रेट की ओर मार्च किया, जहां उन्होंने जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा. मुजफ्फरपुर में प्रदर्शकारी को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा. बेगूसराय जिले में हर हर महादेव चौक पर एनसीसी के कुछ छात्रों एवं सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं ने टायर जलाकर राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 को जाम कर ‘अग्निपथ योजना' का विरोध किया.

  9. इस बीच, बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया, ‘‘अगर देश के सबसे बड़े नियोक्ताओं भारतीय रेलवे व सेना में भी नौकरियां ठेके एवं प्रशासनिक सेवा में ‘लेटरल एंट्री' के नाम पर दी जाने लगेंगी तो युवा क्या करेंगे.'' उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘क्या युवा पढ़ाई और चार वर्षों की संविदा नौकरी भविष्य में बीजेपी के पूंजीपति मित्रों के व्यावसायिक ठिकानों की रखवाली के लिए करेंगे.'' उन्होंने कहा कि ‘‘अग्निपथ योजना के अंतर्गत शस्त्र चलाने का प्रशिक्षण प्राप्त कर कम अवधि की अस्थायी सेवा की हुई एक बड़ी आबादी 22 वर्ष की आयु में बेरोजगार हो जाएगी. क्या इससे देश में क़ानून व्यवस्था संबंधित समस्या उत्पन्न नहीं होगी.''

  10. उन्होंने आरोप लगाया कि ‘‘ठेकेदारी प्रथा के तहत संविधान प्रदत्त आरक्षण को समाप्त किया जा रहा है। रेलवे और लेटरल एंट्री में ऐसा ही हो रहा है.'' तेजस्वी ने आरोप लगाया कि ‘अग्निपथ' योजना के तहत भाजपा और संघ अपने अनुषांगिक संगठनों के तंग विचारों एवं घृणा से लैस लोगों व ‘‘फ्रिंज तत्वों'' को सरकारी खर्चे पर प्रशिक्षण दिलाने को आतुर है.