Vivah Muhurat 2021: अगले महीने से बजने लगेंगी शादी की शहनाई, जानिए किस तारीख को बन रहा विवाह का शुभ मुहूर्त

Vivah Muhurat: चार माह का चातुर्मास पूरा होने को है, इस दौरान 14 नवंबर को देवउठनी एकादशी या देवोत्थान एकादशी से शुभ कार्य शुरू हो जाएंगे.

Vivah Muhurat 2021: अगले महीने से बजने लगेंगी शादी की शहनाई, जानिए  किस तारीख को बन रहा विवाह का शुभ मुहूर्त

Vivah Muhurat 2021: आ गई शुभ विवाह की घड़ी, जानिए किस महीने की किस तारीख से बजने शुरू हो जाएंगे बैंड

नई दिल्ली:

Shubh Vivah Muhurat 2021: समूचे देशभर में शुभ विवाह की घड़ियां फिर से आने वाली हैं. 14 नवंबर 2021 को देवउठनी एकादशी है. इसे प्रबोधिनी या देवोत्थान एकादशी के नाम से भी जाना जाता है. पौराणिक कथाओं और मान्यताओं के मुताबिक, इस दिन से भगवान श्री हरि विष्णु पाताल में विश्राम काल पूरा करने के बाद क्षीर सागर से निकल कर सृष्टि का संचालन शुरू करते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि चार माह का चातुर्मास (Chaturmas) पूरा होने को है, इस दौरान 14 नवंबर को देवउठनी एकादशी या देवोत्थान एकादशी से शुभ कार्य शुरू हो जाएंगे. ज्ञात हो कि 15 नवंबर से 13 दिसंबर तक ही विवाह मुहूर्त हैं. दो महीनों के दौरान कुल 16 दिन ही वैवाहिक मुहूर्त हैं. ऐसे में समारोह के लिए जगह से लेकर कैटरिंग, बैंड-बाजा सहित अन्य के बुकिंग बूम पर है. वहीं, इसके बाद 15 जनवरी 2022 में शादी समारोह हो सकेंगे. फिर अप्रैल से जुलाई के बीच मुहूर्त (Muhurat) होंगे. ऐसे में दो साल से इंतजार कर रहे लोग इस बार शादी समारोह करने की तैयारी कर सकते हैं. अभी चतुर्मास चल रहा है, जिसका समापन देवउठनी एकादशी (Devuthani Ekadashi) को होगा.

इन चार महीनों में नहीं बजती शहनाई

आपकी जानाकारी के लिए बता दें कि 20 जुलाई, 2021 को चातुर्मास की शुरूआत हुई थी. हिन्दू पंचांग (Hindu calendar) के अनुसार, चातुर्मास आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि से शुरू होकर कार्तिक (Kartik) मास की शुक्ल पक्ष (Shukla Paksha) की एकादशी तिथि (Ekadashi Tithi) तक रहता है. साल 2021 में चातुर्मास 20 जुलाई 2021 से प्रारंभ हो चुका है. इसकी अवधि की अगर बात करें तो यह आने वाले माह 14 नवंबर 2021 तक रहेगा. इस दिन देवोत्थान एकादशी है और इस एकादशी के बाद से ही मांगलिक कार्य जैसे शादी-विवाह (Marriage) होना शुरू हो जाएगा.

भगवान विष्णु करेगें सृष्टि का संचालन

14 नवंबर 2021 को देवउठनी एकादशी है, जिसे देवोत्थान एकादशी के नाम से भी जाना जाता है. बता दें कि इस दिन से भगवान श्री हरि विष्णु विश्राम (Lord Shri Hari Vishnu) काल पूरा करने के बाद क्षीर सागर से निकल कर सृष्टि का संचालन करते हैं. देवउठनी ग्यारस के ठीक एक दिन बाद यानी 15 नवंबर को माता तुलसी (Tulsi) और सालिग्राम का विवाह हिन्दू धर्म (Hindu religion) के हर घर में संपन्न होगा. इसे देवोत्थान एकादशी कहा जाता है. यह वो दिन है, जब से शुभ मुहूर्त की शुरूआत हो जाती है. इस दौरान हिन्दू धर्म में विवाह का पहला मुहूर्त 15 नवंबर 2021 को है.

विवाह के शुभ मुहूर्त


हिन्दू धर्म में विवाह का पहला मुहूर्त 15 नवंबर 2021 को है. नवंबर माह में कुल 7 शुभ मुहूर्त और दिसंबर 2021 में कुल 6 शुभ मुहूर्त पड़ रहे हैं. चलिए जानते हैं कि कौन-कौन सी तारीख को शुभ मुहूर्त हैं?

नवंबर के विवाह मुहूर्त

  • 15 नवंबर 2021, सोमवार
  • 16 नवंबर 2021, मंगलवार
  • 20 नवंबर 2021, शनिवार
  • 21 नवंबर 2021, रविवार
  • 28 नवंबर 2021, रविवार
  • 29 नवंबर 2021, सोमवार
  • 30 नवंबर 2021, मंगलवार

दिसंबर के विवाह मुहूर्त

  • 1 दिसंबर 2021, बुधवार
  • 2 दिसंबर 2021, गुरुवार
  • 6 दिसंबर 2021, सोमवार
  • 7 दिसंबर 2021, मंगवार
  • 11 दिसंबर 2021, शनिवार
  • 13 दिसंबर 2021, सोमवार

2022 के मुहूर्त

  • जनवरी : 15, 20,23,24,27,28,29,30
  • फरवरी : 5,6,11,12,18,19,22

ऐसे तय होता है विवाह मुहूर्त

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शुभ मुहूर्त निकालने के लिए निम्न बातों का ध्यान रखा जाता है. तिथि (Tithi), वार, नक्षत्र (Nakshatra), योग (Yoga), करण, नवग्रहों की स्थिति, मलमास, अधिकमास, शुक्र (Venus) और गुरु अस्त, अशुभ योग, भद्रा, शुभ लग्न, शुभ योग (Shubh Yog) तथा राहुकाल (Rahukaal) आदि इन्हीं के योग से शुभ मुहूर्त निकाला जाता है.