विज्ञापन
Story ProgressBack

चैत्र नवरात्रि में कलश स्थापना के बाद नारियल का क्या करें, जानें इसके पांच उपाय

नवरात्रि के बाद कलश स्थापना में इस्तेमाल किए गए नारियल का आपको क्या करना चाहिए आइए जानें.

चैत्र नवरात्रि में कलश स्थापना के बाद नारियल का क्या करें, जानें इसके पांच उपाय
हम आपको बताते हैं पांच ऐसे उपाय जो आप कलश स्थापना में इस्तेमाल किए गए नारियल के साथ कर सकते हैं.

Chaitra Navratri Nariyal: इस साल चैत्र नवरात्रि का पावन त्योहार 9 अप्रैल से 17 अप्रैल तक मनाया गया. नवरात्रि (Navratri) में पूरे 9 दिन मां की पूजा अर्चना करने के बाद नौवें दिन लोगों ने कन्या भोज (Kanya Bhoj) व्रत को पूरा किया. इस दौरान कई लोग घर में कलश की स्थापना भी करते हैं, जिसे घट स्थापना भी कहा जाता है. इसमें एक कलश के ऊपर नारियल (Nariyal) और आम की पत्तियां रखकर इसकी पूजा अर्चना हर दिन की जाती है, लेकिन नवरात्रि के बाद इस नारियल का क्या करना चाहिए? चलिए हम आपको बताते हैं, पांच ऐसे उपाय जो आप कलश स्थापना में इस्तेमाल किए गए नारियल के साथ कर सकते हैं.

रवि प्रदोष व्रत को बन रहे हैं कई खास योग, फलदाई होगी भगवान शिव की पूजा

प्रसाद के रूप में बांटे

नवरात्रि में जो कलश स्थापना की जाती है, नवमी की पूजा के बाद इसके ऊपर से नारियल को हटाकर उसे फोड़कर प्रसाद के रूप में सभी कन्याओं को बांट सकते हैं और आप भी इसको ग्रहण कर सकते हैं.

पूजा स्थान पर रखें नारियल

कलश स्थापना के दौरान इस्तेमाल किए गए नारियल को आप लाल रंग के कपड़े में बांधकर पूजा स्थान पर ही रख सकते हैं, इससे माता रानी की विशेष कृपा बनी रहती है.

जल में प्रवाहित करें

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, नवरात्रि में स्थापित किए गए कलश के ऊपर रखें नारियल को 9 दिन के बाद विधि-विधान से हटाना चाहिए और इसे आप नदी या बहते पानी में विसर्जित भी कर सकते हैं. इतना ही नहीं कलश स्थापना के दौरान कलश के नीचे जो चावल रखे जाते हैं उसे भी आप एकत्रित करके नदी में प्रवाहित कर सकते हैं, ऐसा करने से दोष नहीं लगता और पूजा का पूरा फल आपको मिलता है.

घर के मेन डोर पर बांधे

जी हां, धार्मिक मान्यताओं के अनुसार नवरात्रि के बाद कलश के नारियल को घर के मेन डोर पर लाल कपड़े में बांधकर आप लटका सकते हैं और जब अगली नवरात्रि आए तब इस नारियल को हटाकर जल में प्रवाहित कर दें, ऐसे में घर में सकारात्मक बनी रहती है.

ऑफिस में अनुष्ठान करें

मान्यताओं के अनुसार, नवरात्रि के बाद हटाए गए नारियल को आप अपने वर्कप्लेस, दुकान, ऑफिस या ऐसी जगह अनुष्ठान करके रख सकते हैं, जहां पर आप मां दुर्गा की कृपा चाहते हैं, कहते हैं ऐसा करने से नौकरी और व्यापार में तरक्की होती है.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Home Remedies For Skin Care: बदलते मौसम में इन होम रेमेडीज से रखें त्वचा का ख्याल

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
सावन में भोलेनाथ की पूजा करते समय करें इन मंत्रों का जाप, भोलेनाथ दूर कर देंगे सभी कष्ट
चैत्र नवरात्रि में कलश स्थापना के बाद नारियल का क्या करें, जानें इसके पांच उपाय
Trigrahi Yog June 2024: सूर्य के साथ शुक्र और बुध का संयोग बनाएगा इन राशियों को मालामाल
Next Article
Trigrahi Yog June 2024: सूर्य के साथ शुक्र और बुध का संयोग बनाएगा इन राशियों को मालामाल
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;