विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 13, 2018

सुप्रीम कोर्ट के जज बोले- दिल्ली में प्रदूषण की वजह से मैं नहीं कर पा रहा सैर, घर से बाहर निकलना दूभर

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा ने चिंता जताई और कहा कि दिल्ली में इतना प्रदूषण है कि वह सुबह की सैर पर नहीं जा पा रहे हैं.

सुप्रीम कोर्ट के जज बोले- दिल्ली में प्रदूषण की वजह से मैं नहीं कर पा रहा सैर, घर से बाहर निकलना दूभर
प्रदूषण की वजह से दिल्ली की हवा जहरीली हो गई है.
नई दिल्ली: दिल्ली की जहरीली हवा पर सुप्रीम कोर्ट भी चिंतित है. दिल्ली में प्रदूषण की खतरनाक स्थिति को लेकर लेकर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा ने चिंता जताई और कहा कि दिल्ली में इतना प्रदूषण है कि वह सुबह की सैर पर नहीं जा पा रहे हैं. जस्टिस मिश्रा ने कोर्ट में कहा कि दिल्ली में इतना प्रदूषण क्यों है? लोग घरों से बाहर तक नहीं जा पा रहे हैं. मैं सुबह जल्दी उठता हूं और सैर पर जाने की कोशिश करता हूं, लेकिन प्रदूषण की वजह से कई दिनों से सैर पर नहीं जा पा रहा हूं. दरअसल, जस्टिस अरूण मिश्रा और जस्टिस विनीत सरन की पीठ मंगलवार की सुबह सुप्रीम कोर्ट में कोर्ट नंबर 6 में बैठी. वहां SG तुषार मेहता समेत अन्य वकील भी मौजूद थे. बेंच के बैठते ही जस्टिस मिश्रा ने SG से दिल्ली के प्रदूषण की बात शुरु कर दी. उन्होंने कहा कि पता नहीं क्या हो रहा है. इतना प्रदूषण कि दिल्ली में लोगों का घर से बाहर निकलना दूभर हो गया है. वहां मौजूद एक वकील ने कहा कि अस्थमा जैसी बीमारियों से पीड़ित लोगों को और भी दिक्क्तों का सामना करना पड़ रहा है.  

दिवाली की रात सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करने के मामले में 300 से अधिक लोग गिरफ्तार

आपको बता दें कि पटाखों पर सख़्ती के बावजूद दिवाली के मौके पर दिल्ली-NCR में सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की जमकर धज्जियां उड़ीं. दिल्ली-NCR में लोगों ने जमकर आतिशबाज़ियां कीं और प्रदूषण की रत्ती भर भी परवान नहीं की. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-NCR में सिर्फ ग्रीन पटाखे छोड़ने और उसके लिए रात 8 से 10 बजे तक का ही समय दिया था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. जिसकी वजह से दिवाली की अगली सुबह यानी गुरुवार का मौसम बेहद खराब हो गया और दिल्ली में प्रदूषण की वजह से धूंध की मोटी चादर बिछी दिखी. दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता मधुर वर्मा ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन करने के 550 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं. वहीं 72 लोगों के खिलाफ एक्सप्लोसिव एक्ट का मामला दर्ज किया गया और 75 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

Air pollution: पटाखों के धुएं से बच्चे और बुजुर्गों को ज्यादा नुकसान 

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
दिल्ली : तिलक नगर के घर में मिला जिम ट्रेनर और उनकी दोस्त का शव, जांच जारी
सुप्रीम कोर्ट के जज बोले- दिल्ली में प्रदूषण की वजह से मैं नहीं कर पा रहा सैर, घर से बाहर निकलना दूभर
'तलवार, फरसा, डंडा से हमला, SLR और MP-5 गन लूटने की कोशिश; 40 कारतूस छीने': लाल किले की FIR 
Next Article
'तलवार, फरसा, डंडा से हमला, SLR और MP-5 गन लूटने की कोशिश; 40 कारतूस छीने': लाल किले की FIR 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;