दिल्ली के नर्सिंग होम में नर्स ने 2 महीने के बच्चे को बेरहमी से पीटा, सीसीटीवी फुटेज में हुआ खुलासा

पिता के कहने पर सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चेक की गई, जिसमें एक नर्स मासूम की पीटती दिख रही है. इसके बाद पिता ने विवेक विहार थाने में शिकायत दर्ज करवाई है. पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

दिल्ली के नर्सिंग होम में नर्स ने 2 महीने के बच्चे को बेरहमी से पीटा, सीसीटीवी फुटेज में हुआ खुलासा

दिल्ली के नर्सिंग होम में बच्चे की बेरहमी से पिटाई

नई दिल्ली:

Delhi Nursing Home Case: दिल्ली के नर्सिंग होम में एक 2 महीने के बच्चे की इतनी बेहरमी से पिटाई की गई कि उसके बाएं हाथ की हड्डी टूट गई और मुंह पर भी सूजन आ गई.  दरअसल, यूपी के हाथरस के रहने वाले एक परिवार ने अपने 2 महीने के मासूम बच्चे को इलाज के लिए दिल्ली के विवेक विहार के नर्सिंग होम में भर्ती कराया. नर्सिंग होम में पिता दिन में एक बार बच्चे को देख लेते थे, क्योंकि वहां रुकने की इजाजत नहीं थी. इसके बाद 24 जुलाई को नर्सिंग होम की ओर से बताया गया कि आपके बेटे को चोट लगी है, बाएं हाथ में फ्रेक्चर है और बच्चे का मुंह भी सूजा हुआ है. 

पिता के कहने पर नर्सिंग होम के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज चेक की गई, जिसमें एक नर्स मासूम की पीटती दिख रही है. इसके बाद पिता ने विवेक विहार थाने में शिकायत दर्ज करवाई है. पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. पिता सबीब के मुताबिक- उनकी पत्नी गुलाफ्शा ने 22 मई को हाथरस के अस्पताल में जुड़वां बच्चों को जन्म दिया. इसके बाद 16 जुलाई को बेटे अहान की तबीयत बिगड़ने पर अलीगढ़ के अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन इंफेक्शन ज्यादा होने की वजह से उन्होंने उसे दिल्ली के विवेक विहार के केयर न्यू बोर्न एंड चाइल्ड सेंटर में एडमिट करा दिया.

सबीब के मुताबिक- सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि सौम्या नाम की नर्स 24 जुलाई तड़के 3: 40 बजे बच्चे से मारपीट कर उसे पटक रही है. सबीब का आरोप है कि उसे नर्सिंग होम की तरफ से मुंह बन्द करने की धमकी भी दी गई, लेकिन सबीब ने 27 जुलाई को बेटे को डिस्चार्ज कराकर हेडगेवार अस्पताल में भर्ती करवा दिया. मासूम का मेडिकल में हाथ में फ्रेक्चर आया और चोट के निशान मिले हैं. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसका घटना ने एक बार फिर सोचने को मजबूर कर दिया है. कितने विश्वास से पिता अपने बच्चे को नर्सिंग होम के हवाले छोड़ कर गया, लेकिन उनके बच्चे के साथ नर्स ने खराब व्यवहार किया.