UP: प्रेमी से मिलने उसके घर जाने पर गांववालो ने घेरा तो प्रेमिका ने लगा ली फांसी, ग्रामीणों ने युवक को पीट-पीटकर किया अधमरा

पुलिस ने बताया कि युवक के मां-बाप दिल्ली में रहकर मजदूरी करते हैं और युवक यहां अकेले घर में रहकर स्नातक कक्षा की पढ़ाई कर रहा है. घटना के समय भी युवक अपने घर में अकेला था.

UP: प्रेमी से मिलने उसके घर जाने पर गांववालो ने घेरा तो प्रेमिका ने लगा ली फांसी, ग्रामीणों ने युवक को पीट-पीटकर किया अधमरा

ग्रामीणों के घेरने पर युवती ने प्रेमी के घर लगाई फांसी (प्रतीकात्मक तस्वीर)

महोबा:

उत्तर प्रदेश के महोबा जिले के बघौरा गांव में प्रेमी से मिलने उसके घर गई एक युवती ने ग्रामीणों द्वारा घर घेरे जाने से कथित तौर पर क्षुब्ध होकर फांसी लगा ली. कुलपहाड़ क्षेत्र के पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) अवध सिंह ने बुधवार को बताया कि अजनर थाना क्षेत्र के बघौरा गांव में करीब 20-21 साल की युवती और एक युवक के घर आमने-सामने हैं और दोनों के बीच पिछले दो साल से प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है. उन्होंने कहा कि मंगलवार दोपहर बाद युवती, युवक के घर उससे मिलने गयी थी. लड़की का पिता गांव में उसे ढूंढ़ ही रहा था कि किसी ने लड़की के पिता को युवक के घर लड़की के जाने की बात बताई. इस पर ग्रामीणों की भीड़ ने युवक के घर को चारों तरफ से घेर लिया. 

सिंह ने बताया, "लड़की के पिता और ग्रामीणों ने जबरन युवक के घर के दरवाजे खुलवाकर तलाशी ली, जहां अंदर एक कमरे में युवती का शव फांसी के फंदे पर लटकता पाया.''सीओ ने बताया कि लड़की की मौत से नाराज ग्रामीणों ने युवक को पकड़कर बुरी तरह से मारा-पीटा, जिससे वह अधमरा हो गया. ग्रामीणों की ही सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह युवक को भीड़ से छुड़ाया और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया. इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस पर भी पथराव किया. हालांकि, इसमें कोई पुलिसकर्मी घायल नहीं हुआ. 

उन्होंने बताया कि प्रथमदृष्टया ऐसा लग रहा है कि ग्रामीणों के घेर लेने पर बदनामी के डर से युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है. सीओ के मुताबिक अगर तहरीर मिलती है तो ग्रामीणों के खिलाफ आत्महत्या के लिए बाध्य करने का मुकदमा दर्ज किया जाएगा. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. 

पुलिस ने बताया कि युवक के मां-बाप दिल्ली में रहकर मजदूरी करते हैं और युवक यहां अकेले घर में रहकर स्नातक कक्षा की पढ़ाई कर रहा है. घटना के समय भी युवक अपने घर में अकेला था. 


(आत्‍महत्‍या किसी समस्‍या का समाधान नहीं है. अगर आपको सहारे की जरूरत है या आप किसी ऐसे शख्‍स को जानते हैं जिसे मदद की दरकार है तो कृपया अपने नजदीकी मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञ के पास जाएं.)

हेल्‍पलाइन नंबर:

AASRA: 91-22-27546669 (24 घंटे उपलब्ध)

स्‍नेहा फाउंडेशन: 91-44-24640050 (24 घंटे उपलब्ध)

वंद्रेवाला फाउंडेशन फॉर मेंटल हेल्‍थ: 1860-2662-345 और 1800-2333-330 (24 घंटे उपलब्ध)

iCall: 022-25521111 (सोमवार से शनिवार तक उपलब्‍ध: सुबह 8:00 बजे से रात 10:00 बजे तक)

एनजीओ: 18002094353 दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक उपलब्‍ध)

वीडियो: बेरोजगारी से तंग आकर दी जान, शव के पास मिला सुसाइड नोट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)