सौरव का 25 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ चर्चाओं में आ गए कीवी ओपनर डेवोन कोनवे, और रिकॉर्ड भी जानें

Eng vs NZ 1st Test: लेफ्टी डेवोन कोनवे (Devon Conway) ने इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट के पहले दिन यह उपलब्धि हासिल की. कोनवे ने नाबाद 136 रन की पारी खेली और पहले दिन की समाप्ति पर न्यूजीलैंड के स्कोर को 3 विकेट र 236 तक ले जाने में अहम योगदान दिया. 

सौरव का 25 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ चर्चाओं में आ गए कीवी ओपनर डेवोन कोनवे, और रिकॉर्ड भी जानें

Eng vs Nz 1st Test:

खास बातें

  • कोनवे आगे, सौरव पीछे!
  • अब लॉर्ड्स के किंग बने कोनवे
  • इस लेफ्टी में दम है!
नई दिल्ली:

बुधवार को क्रिकेट जगत में न्यूजीलैंड के ओपनर डेवोन कोनवे (Devon Conway) की चर्चा होती रही. और हो भी आखिर क्यों न! डेविड कोनवे ने काम ही ऐसा किया कि सभी की जुबां पर उनका नाम चढ़  गया. वजह यह रही कि करियर के पहले ही टेस्ट में कोनवे ने शतक तो जड़ा ही, भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Gaguly) का 25 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया. लेफ्टी डेवोन कोनवे ने इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट के पहले दिन यह उपलब्धि हासिल की. कोनवे ने नाबाद 136 रन की पारी खेली और पहले दिन की समाप्ति पर न्यूजीलैंड के स्कोर को 3 विकेट पर 236 तक ले जाने में अहम योगदान दिया. वैसे आपको बता दें कि डेवोन कोनवे (Devon Conway) ने सौरव का रिकॉर्ड ही नहीं, तोड़ा बल्कि कई और बातों पर भी अपने नाम की मुहर लगा दी. और इस कारनामे के साथ ही उन्होंंने बताया कि दुनिया को एक और  सितारा बल्लेबाज मिल गया है.  

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर भारत के कोविड-19 प्रभावितों के लिए पैसा जुटाने की मुहिम में हिस्सा लेंगे

दरअसल यह सा 1996 था, जब सौरव गांगुली ने लॉर्ड्स में अपने पहले ही टेस्ट में नाबाद 131 रन बनाए थे. यह इस मैदान पर करियर के पहले ही टेस्ट में किसी खिलाड़ी का बेस्ट स्कोर था, लेकिन अब इस रिकॉर्ड पर नाबाद 136 रन बनाकर कोनवे ने अपना नाम लिखवा दिया है. वैसे इन दोनों लेफ्टी बल्लेबाजों में एक समानता और है कि सौरव और कोनवे दोनों का ही जन्मदिन 8 जुलाई को है. 

बने ऐसे तीसरे बल्लेबाज
शतक बनाने के साथ ही कोनवे लॉर्ड्स में पहले ही टेस्ट में शतक जड़ने वाले केवल तीसरे ऐसे गैर-इंग्लिश बल्लेबाज बन गए हैं. ऑस्ट्रेलिया के हैरी ग्राह्म ने मेजबानों के खिलाफ ही 1893 में पदार्पण टेस्ट में 107 ररन बनाए थे. 

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर भारत के कोविड-19 प्रभावितों के लिए पैसा जुटाने की मुहिम में हिस्सा लेंगे, Video

पहले ऐसे बल्लेबाज बने

यूं तो लॉर्डस में पहले ही टेस्ट में शतक जड़ने वाले कोनवे पांचवें बल्लेबाज हैं. उनके अलावा सौरव गांगुली (131), मैट प्रॉयर (126*), एंड्रयू स्ट्रॉस (112) और हैरी ग्राह्म (107) हैं, लेकिन सभी बल्लेबाजों में कोनवे इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने टेस्ट के पहले ही दिन अपना शतक पूरा किया. 

एंडरसन ने कीवी टीम के 'दीवार' विलियमसन को किया बोल्ड, देखते रह गए NZ कप्तान- Video


देर से शुरू हुआ करियर, लेकिन..
डेवोन कोनवे का टेस्ट करियर 29 साल की उम्र में शुरू हुआ, जो थोड़े से ज्यादा देर कही जा जा सकती है, लेकिन 28 साल की उम्र में पिछले साल टी20 खेलकर अंतरराष्ट्रीय करियर शुरू करने वाले कोनवे ने दिखाया है कि उनमें दम है. उन्होंने खेले 3 वनडे में 75.00 के औसत से 225 और 14 टी20 में 59.12 के औसत से 473 रन बनाए हैं. इसमें 4 पचासे हैं. यही असर उन्हें टेस्ट में मौका दिला गया.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ महीने पहले हुयी मिनी ऑक्शन में कृष्णप्पा गौतम 9.25 करोड़ रुपये में बिके थे. ​