IND vs SL 1st T20I: यहां से सेलेक्टरों की दीपक हूडा को लेकर राय बदल गयी, डेब्यूटेंट खिलाड़ी के बारे में जानें सबकुछ

IND vs SL 1st T20I: पिछले साल दीपक हूडा (Deepak Hooda) का क्रुणाल पंड्या के साथ ऐसा विवाद हुआ कि उन्हें बड़ौदा राज्य टीम छोड़ने को मजबूर होना पड़ा.

IND vs SL 1st T20I: यहां से सेलेक्टरों की दीपक हूडा को लेकर राय बदल गयी, डेब्यूटेंट खिलाड़ी के बारे में जानें सबकुछ

IND vs SL 1st T20I: दीपक हूडा का टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर शुरू हो गया है.

खास बातें

  • आईपीएल से चढ़े सेलेक्टरों की निगाह में
  • ...जब क्रुणाल पंड्या के साथ छिड़ गया विवाद
  • भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय टी20 करियर हुआ शुरू
नयी दिल्ली:

हर खिलाड़ी का सपना होता है कि भारत के लिए खेले और आज टीम इंडिया में शामिल किए गए दीपक हूडा अपने अंतरराष्ट्रीय टी20 करियर का आगाज करने जा रहे हैं. पिछले दिनों उन्होंने वेस्ट इंडीज के खिलाफ अपना वनडे करियर शुरू किया था. पिछले करीब दो आईपीएल सेशन में दीपक हूडा ने अपनी प्रोफाइल में खासा इजाफा किया. कुछ धमाकेदार पारी खेलीं, तो सेलेक्टरों की निगाह में चढ़ते गए. पहले वनडे में फल मिला, तो अब टी20 में. चलिए विस्तार से जान लें दीपक हूडा के करियर के बारे में और वह स्थिति कब आयी, जब उन्हें लेकर चयनकर्ताओं का नजरिया उन्हें लेकर बदल गया. 

यह भी पढ़ें: 1st T20 से पहले बड़ी खबर, Auction का सबसे महंगा श्रीलंकाई खिलाड़ी बाहर, इस खिलाड़ी ने किया डेब्यू

प्रथम श्रेणी रिकॉर्ड है शानदार 
दीपक मूलत: बड़ौदा के खेलते रहे हैं. उनका प्रथम श्रेणी रिकॉर्ड शानदार रहा है और अभी तक खेले 46 मैचों में दीपक ने 38.53 के औसत से 2908 रन बनाए हैं और उनक सर्वाधिक स्कोर है नाबाद रहते हुए 293 रन. ऑफ स्पिन गेंदबाजी करने वाले हूडा ने 46 मैचों में 20 विकेट भी चटकाए हैं, तो लिस्ट ए (घरेलू वनडे) में उन्होंने 36 और राष्ट्रीय टी20 मैचों में 17 विकेट लिए हैं. लिस्ट ए मैचों में हूडा का औसत 38.53 और टी20 में 23.86 का है. 


जब घरेलू क्रिकेट में हुआ क्रुणाल पंड्या से विवाद
पिछले साल घरेलू क्रिकेट में तब हूडा और क्रुणाल पंड्या के बीच विवाद हो गया, जब मुश्ताक अली ट्रॉफी के दौरान नेट अभ्यास के दौरान हूडा ने क्रुणाल पर अभद्र बर्ताव और उन्हें अपनमानित करने का आरोप लगाया. मामला यहां तक पहुंच गया कि हूडा ने बड़ौदा  को छोड़कर घरेलू क्रिकेट में दूसरे राज्य की शरण ले ली.

यह भी पढ़ें:  'मिलियन डॉलर बेबी' Ishan Kishan ने धागा खोल दिया, गेंदबाजों के उड़ाए होश- Video

2020 आईपीएल से किया छवि में सुधार
दीपक हूडा ने पिछले से पिछली आईपीएल में अपनी छवि को और बेहतर किया. इस साल हूडा को अपने आईपीएल करियर में सबसे कम 7 मैच खेलने को मिले, लेकिन सबसे ज्यादा असर भी उन्होंने इस साल छोड़ा. इन सात मैचों की 4 पारियों में दीपक ने 101.00 के औसत और 142.25 के स्ट्रा. रेट से 101 रन बनाए. यूं तो दीपक 2015 से आईपीएल खेल रहे थे, लेकिन यह उनका छठा संस्करण रहा, जिससे सेलेक्टरों की उनके बारे में राय बदली. राय बदली और इनाम भी अब टी20 कैप के साथ मिल गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


IPL से होने वाली कमाई को कैसे BCCI,आईपीएल टीमों और स्टेट एसोसिएशन के बीच बांटा जाता है?.