IND vs NZ: विराट हुए ट्रेंट बोल्ट को लेकर चिंतित, बल्लेबाजों की दी यह सलाह

Ind vs Nz: पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में शाहीन अफरीदी के प्रहार के बाद भारतीय मैनेजमेंट लेफ्टी सीमर को लेकर ज्यादा ही चिंतित हो गया है.

IND vs NZ: विराट हुए ट्रेंट बोल्ट को लेकर चिंतित, बल्लेबाजों की दी यह सलाह

Ind vs Nz, T20 World Cup: भारतीय कप्तान विराट कोहली

खास बातें

  • भारत-न्यूजीलैंड मुकाबला कल रविवार को
  • जो हारेगा, उसकी कहानी खत्म !!
  • करोड़ों फैंस कर रहे मुकाबले का इंतजार
नयी दिल्ली:

टी20 विश्व कप में रविवार को भारत और न्यूजीलैंड (Inz vs Nz) के बीच खेले जाने वाला मुकाबाल हाई-वोल्टेज मैच में तब्दील हो चला है क्योंकि यह मुकाबला एक तरह से आर-पार की लड़ाई में तब्दील हो गया है. और जहां इस मुकाबले में करोडों भारतीय फैंस एक कीवी गेंदबाज को लेकर चिंतित हैं, तो मैच की पूर्व संध्या पर विराट कोहली (Virat Kohli) ने भी इस बॉलर को लेकर चिंता जतायी है. कारण समझा जा सकता है कि जिस तरह पहले मुकाबले में शाहीन अफरीदी ने रोहित और केएल राहुल को हत्थे से उखाड़ा, उस अंदाज से किसी भी कप्तान का होना स्वाभाविक सी बात है. इस बात को रखते हुए कोहली ने बल्लेबाजों को सुझाव भी दिए हैं.

यह भी पढ़ें: धर्म के चलते शमी को निशाना बनाने वालों पर विराट का पलटवार, भारतीय कप्तान बोले कि...

स्विंग और गति की काट करनी होगी
प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट ने कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले में कीवी लेफ्टी सीमर ट्रेंट बोल्ट की गति और स्विंग की काट करने के लिए भारतीय बल्लेबाजी को प्रेरित होने की जरूरत है. भारतीय कप्तान बोले कि इस मुकाबले में हमें कुछ स्तरीय गेंदबाजों का सामना करना होगा. और जिस ऊर्जा और स्तर पर इस टूर्नामेंट का आयोजन हो रहा है, यह एकदम अलग है. इसलिए हम जानते हैं कि हम इन खिलाड़ियों के खिलाफ खेल चुके हैं. और ऐसा नहीं है कि हमारा सामना साधारण गेंदबाजों से होने जा रहा है. 

बल्लेबाजों को प्रेरित होने की जरूरत
विराट ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अगर बोल्ट यह कह रहे हैं कि वह शाहीन का प्रदर्शन दोहराना चाहते हैं, तो इसकी काट इस पर निर्भर करती है कि हम मैदान पर कैसी मनोदशा के साथ उतरते हैं और उनकी स्विंग और गति की कैसे काट करते हैं. हमें बोल्ट पर दबाव बनाने के लिए प्रेरित होने और उन पर पलटवार करने की जरूरत है.  भारतीय कप्तान ने कहा कि कुछ इसी तरह से ही मैच खेले जाते हैं. और हम समझते हैं कि हमें क्या करने की जरूत है. दबाव के पलों में बाकी दूसरे परिदृश्यों के बारे में न सोचना बल्लेबाजी के लिए बहुत ही अहम बात है. 

यह भी पढ़ें:  न्यूजीलैंड head-to head रिकॉर्ड में भारत पर भारी, लेकिन इस तर्क के आगे इतिहास के कोई मायने नहीं

"भुवनेश्वर को लेकर कुछ नहीं कहूंगा"

भुवनेश्वर कुमार की फॉर्म के बारे में विराट ने कहा कि मैं किसी खिलाड़ी विशेष के बारे में कुछ नहीं कहना चाहता. बतौर बॉलिंग समूह हम विकेट चटकाने में नाकाम रहे और हम समझते हैं कि खेल में ऐसा हो सकता है.  विराट बोले कि यह कोई गारंटी नहीं है कि जब भी आप मैदान पर उतरोगे, तो आप विकेट नहीं लेंगे. ये वही खिलाड़ी हैं, जिन्होंने हमें पहले मैच जिताए हैं. हम समझते हैं कि पाकिस्तान के खिलाफ कहां क्या गलत गया.


टॉस आगे भी अहम रोल निभाएगा, लेकिन...
भारतीय कप्तान ने स्वीकारा कि विश्व कप में टॉस अहम साबित हो रहा है.  विराट ने कहा कि यह सही है कि टॉस आगे भी अहम रोल निभाता रहेगा और यही टूर्नामेंट की प्रकृति है. आप हालात को दो तरह से देख सकते हैं. या तो आप टॉस पर बहुत ज्यादा निर्भ हो सकते हैं या फिर टॉस हारने के  बाद भी बतौर टीम आप एक चैलेंज ले सकते हैं. आपको किसी भी हालात में अच्छी बॉलिंग या बैटिंक करनी होगी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:INDIA vs NZ: भारतीय टीम में क्या बदलाव ज़रूरी? कहीं देर ना हो जाए, बोले एक्सपर्ट्स