Aus vs Ind 3rd Test: पुकोवस्की ने बतायी वजह, क्यों भारतीय बॉलरों में अश्विन हैं सबसे ज्यादा चैलेंजिंग

Aus vs Ind 3rd Test; Day 1: कंगारू ओपनर विल पुकोवस्की भाग्यशाली रहे कि ऋषभ पंत ने उनके दो कैच छोड़ दिए, जिससे वह पचासा जड़ने में कामयाब रहे. वैसे यह भी सही है कि 22 साल का यह बल्लेबाज काफी कॉन्फिडेंट दिखायी पड़ा और उन्होंने कुछ अच्छी स्ट्रोक खेले.

Aus vs Ind 3rd Test: पुकोवस्की ने बतायी वजह, क्यों भारतीय बॉलरों में अश्विन हैं सबसे ज्यादा चैलेंजिंग

ऑस्ट्रेलिया युवा बल्लेबाज ने भविष्य की संभावनाएं दिखायी हैं

सिडनी:

विल पुकोवस्की ने जैसी उम्मीद की थी उनका पदार्पण उसी तरह रहा और भारत के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन वीरवार को यहां ऑस्ट्रेलिया के इस युवा बल्लेबाज को आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन सबसे बेजोड़ गेंदबाज लगे. हेलमेट में गेंद लगने के कारण चक्कर आने जैसी स्थिति के कारण श्रृंखला के पहले दो टेस्ट से बाहर रहे 22 साल के पुकोवस्की ने 62 रन की पारी खेली. श्रृंखला के पहले टेस्ट से पूर्व अभ्यास मैच के दौरान पुकोवस्की के सिर में गेंद लगी थी. पुकोवस्की ने आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, ‘यह शानदार अनुभव था. ईमानदारी से कहूं तो यह मेरे लिए सब कुछ था, मैंने मैदान के अंदर और बाहर कड़ी मेहनत की है, इस उम्मीद में की यह दिन आएगा और यह काफी विशेष दिन था.' पुकोवस्की (Pucovski) ने मारनस लबुशेन (नाबाद 67) के साथ मिलकर ऑस्ट्रेलिया की पारी को संवारा जिससे मेजबान टीम ने बारिश से प्रभावित पहले दिन दो विकेट पर 166 रन बनाए.

इस सलामी बल्लेबाज का मानना है कि अपनी गेंदबाजी में विविधता के कारण अश्विन चुनौतीपूर्ण गेंदबाज हैं. उन्होंने कहा, ‘‘वे (भारतीय गेंदबाज) सभी काफी अच्छे हैं. पहले मैच में खेलते हुए मैं कहूंगा कि अश्विन संभवत: सबसे बेजोड़ गेंदबाज हैं.' पुकोवस्की ने कहा, ‘बेशक  बुमराह का एक्शन अलग तरह का है लेकिन अश्विवन काफी वैरिएशन का इस्तेमाल करते हैं. इस तरह के वैरिएशन का मैंने पहले सामना नहीं किया है इसलिए यह चुनौतीपूर्ण था.'

यह भी पढ़ें:सिराज ने मैच के बाद किया खुलासा, राष्ट्रगान के दौरान क्यों रो पड़े

पुकोवस्की पदार्पण करते हुए अर्धशतक जड़ने वाले ऑस्ट्रेलिया के सबसे युवा बल्लेबाज बने और उन्हें भरोसा है कि ऑस्ट्रेलिया इस मैच में दबदबा बनाएगा. उन्होंने कहा, ‘यह बल्लेबाजी के लिए काफी अच्छा विकेट है. मुझे उम्मीद है कि टीम की बल्लेबाजी को देखते हुए हम काफी अच्छा स्कोर बना पाएंगे और इसके बाद अपने विश्वस्तरीय आक्रमण से भारत को दबाव में ला पाएंगे. उम्मीद करते हैं कि हम मैच में दबदबा बना पाएंगे. पुकोवस्की को भारतीय गेंदबाजों ने काफी शॉर्ट गेंदों की उम्मीद थी और उन्होंने कहा कि वह इसके लिए तैयार थे.

यह भी पढ़ें: "सौरव अब विमान भी उड़ा सकते हैं", डॉक्टरों ने बताया कब करानी होगी दूसरी एंजियोप्लास्टी


इस सलामी बल्लेबाज ने लाबुशेन के साथ 104 रन की साझेदारी की और उन्होंने कहा कि इस सीनियर बल्लेबाज साथ बल्लेबाजी करना शानदार था.पुकोवस्की को पदार्पण करते हुए ऑस्ट्रेलिया की बैगी ग्रीन कैप विक्टोरिया के उनके कोच एंड्रयू मैकडोनाल्ड ने सौंपी. इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘यह काफी विशेष था और मैं काफी भावुक था कि रॉनी (मैकडोनाल्ड) मुझे कैप दे रहे हैं। हमने काफी समय साथ बिताया है, वह विक्टोरिया में मेरे पहले कोच थे और किसी ऐसे व्यक्ति के साथ लम्हा साझा करना अच्छा था जिसके साथ मेरा करीबी संपर्क रहा है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.