IND vs ENG: चौथे टेस्ट में कैसी होगी पिच, अजिंक्य रहाणे ने कर दिया खुलासा

India vs England 4th Test: अजिंक्य रहाणे (Ajinkya rahane) ने देश में स्पिनरों की मददगार पिच की आलोचना को ‘गंभीरता’ से नहीं लेने की सलाह देते हुए मंगलवार को कहा कि हमने विदेशों में नमी वाली पिचों (तेज गेंदबाजों की मददगार) के खिलाफ कभी कुछ नहीं बोला और इंग्लैंड की टीम को यहां चौथे टेस्ट में भी धीमी गेंदबाजी की मददगार विकेट की अपेक्षा करनी चाहिए

IND vs ENG: चौथे टेस्ट में कैसी होगी पिच, अजिंक्य रहाणे ने कर दिया खुलासा

India vs England 4th Test: रहाणे का पिच को लेकर बड़ा खुलासा

भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya rahane) ने देश में स्पिनरों की मददगार पिच की आलोचना को ‘गंभीरता' से नहीं लेने की सलाह देते हुए मंगलवार को कहा कि हमने विदेशों में नमी वाली पिचों (तेज गेंदबाजों की मददगार) के खिलाफ कभी कुछ नहीं बोला और इंग्लैंड की टीम को यहां चौथे टेस्ट में भी धीमी गेंदबाजी की मददगार विकेट की अपेक्षा करनी चाहिए. चेपॉक (चेन्नई) में खेले गये दूसरे टेस्ट और मोटेरा (अहमदाबाद) में गुलाबी गेंद से खेले गये तीसरे टेस्ट में स्पिनरों की मददगार पिचों की काफी चर्चा हुई.

माइकल वॉन ने उड़ाया मजाक, 'ऊबड़ खाबड़' पिच की तस्वीर शेयर कर बोले- 'आखिरी टेस्ट की तैयारी..'

दिन-रात्रि टेस्ट मैच महज दो दिनों में खत्म हो गया. श्रृंखला का चौथा और आखिरी टेस्ट चार मार्च से शुरु होगा. रहाणे ने ऑनलाइन मीडिया सम्मेलन में कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि पिच (4th test match pitch) चेन्नई में खेले गये दूसरे टेस्ट मैच के जैसा ही होगा, जिस पर स्पिनरों को मदद मिलेगी. हां, गुलाबी गेंद से थोड़ा फर्क पड़ा और जो लाल गेंद की तुलना में पिच पर टप्पा खाने के बाद तेजी से आ रही थी. हमें इससे सामंजस्य बिठाना पड़ा. उन्होंने कहा, ‘‘ यह पिच भी पिछले दो मैचों की तरह ही होगी.

रहाणे पिछले कई वर्षों में पहली बार उस समय खफा दिखे, जब उनसे पिच पर टिप्पणी को लेकर इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ियों के बयान पर प्रतिक्रिया देने के लिए पूछा गया. कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) से स्पिनरों की मददगार पिच बनाने पर भारत के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की थी. रहाणे ने थोड़े गुस्सा भरे लहजे में कहा, ‘‘ लोग जो कह रहे है, उन्हें कहने दीजिए. जब हम विदेश दौरे पर जाते है तो तेज गेंदबाजों की मदद पिच को लेकर कोई कुछ नहीं कहता है. वे तब भारतीय बल्लेबाजों की तकनीक की बात करते है, मुझे नहीं लगता कि इसे गंभीरता से लिये जाने की जरूरत है.

भारतीय टेस्ट उपकप्तान ने कहा, ‘‘ आप देखिये, जब हम विदेश दौरे पर जाते हैं, तो पहले दिन विकेट में काफी नमी होती है. जब पिच पर घास होती है तो गेंद असामान्य तरीके से उछाल लेती है. ऐसे में पिच खतरनाक हो जाती है लेकिन हमने कभी इसके बारे में शिकायत नहीं की है.' स्पिनरों की मददगार पिच पर गेंद की दिशा में खेलना जरूरी हो जाता है.

चेतेश्वर पुजारा की घर की घंटी बजाकर भागे रोहित शर्मा और कुलदीप यादव, हिट मैन ने फनी तस्वीर शेयर कर किया मजेदार कमेंट

उन्होंने कहा, ‘‘ जब आप स्पिनरों की मददगार पिच पर खेलते है तो आपको गेंद की दिशा के मुताबिक खेलना होता है, अगर गेंद ज्यादा घूम रही है तो आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं होती है. पिछले दो मैचों में इंग्लैंड की करारी शिकस्त के बाद भी रहाणे उन्हें कम नहीं आंक रहे है. उन्होंने कहा, ‘‘ यह पिच भी वैसी ही दिख रही है लेकिन हमें अभी देखना होगा कि यह कैसा बर्ताव करती  है. हम टीम के तौर पर इंग्लैंड का सम्मान करते है. वे पहले टेस्ट में अच्छा खेले और हम उसके बाद के दो मैचों में बेहतर रहे. उन्होंने कहा, ‘‘हम उन्हें हल्के में नहीं ले रहे है, दोनों टीमें मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर टेस्ट मैच जीतना चाहेगी.

AFG vs ZIM: गेंदबाज ने फेंकी ऐसी खतरनाक यॉर्कर, दो स्टंप उखड़ गए, बल्लेबाज देखता रह गया, देखें Video


उन्होंने इशारा किया कि अनुभवी तेज गेंदबाज उमेश यादव को इस मैच में मौका मिल सकता है. उन्होंने कहा, ‘‘ उमेश तैयार है. वह अच्छे लय में और और उसका नेट सत्र भी अच्छा रहा। हमें खुशी है कि उसने टीम में वापसी की है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:  कुछ दिन पहले विराट ने अपने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)