लोकसभा चुनाव में करारी हार से आम आदमी पार्टी हुई सतर्क, अब पूरी दिल्ली कैबिनेट जनता के बीच

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित दिल्ली सरकार के सभी मंत्री जनता के बीच जाएंगे और लोगों की समस्याएं सुनकर उनका समाधान करेंगे

लोकसभा चुनाव में करारी हार से आम आदमी पार्टी हुई सतर्क, अब पूरी दिल्ली कैबिनेट जनता के बीच

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के सभी मंत्री मंगलवार से जनसंपर्क करेंगे और समस्याएं सुलझाएंगे.

खास बातें

  • सभी मंत्री अपने विभागों से जुड़े दफ्तरों का औचक निरीक्षण भी करेंगे
  • सीएम केजरीवाल अपनी सीट नई दिल्ली में लोगों से संपर्क कर रहे
  • उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया प्रोजेक्टों का निरीक्षण कर रहे
नई दिल्ली:

दिल्ली में लोकसभा चुनाव (Loksabha Election Results 2019) में करारी हार से शायद आम आदमी पार्टी (AAP) ने सबक लिया है. यही कारण है कि दिल्ली सरकार (Delhi Government) के सभी मंत्री अब जनता के बीच जाकर लोगों से संवाद करेंगे और लोगों की समस्याएं भी सुलझाएंगे.    

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejariwal) सहित पूरी दिल्ली सरकार की कैबिनेट मंगलवार से जनता के बीच रहेगी. सभी मंत्री जनता की समस्याएं सुनेंगे और उनका समाधान करेंगे. सभी मंत्री अस्पतालों, स्कूलों, क्लीनिकों में जाएंगे और लोगों के रोजमर्रा के जीवन से जुड़े कामकाज का भी जायजा लेंगे. इससे सरकार को जमीनी स्तर पर लोगों की समस्याएं जानने में मदद मिलेगी और समस्याओं का समाधान तत्काल किया जा सकेगा.

मुख्यमंत्री केजरीवाल पहले से ही दिल्ली के विभिन्न इलाकों में पदयात्राएं और जनसंपर्क कर रहे हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल देवली और तुगलकाबाद में अपनी पदयात्रा के दौरान लोगों की समस्याओं का समाधान कर चुके हैं. इसके अलावा मुख्यमंत्री अपनी विधानसभा सीट नई दिल्ली में भी स्थानीय लोगों से जनसपंर्क कर रहे हैं. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में विभिन्न विभागों के चल रहे विकास कार्यों का जायजा लेने और लोगों की समस्याओं को जानने व उनका समाधान करने के लिए अपने दौरे जारी रखेंगे.

अरविंद केजरीवाल को नीचा दिखाने की कोशिश, खुद बीजेपी एमएलए की हो गई फजीहत

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने सोमवार को सात स्कूलों का निरीक्षण किया. उप मुख्यमंत्री भी शहर के विभिन्न हिस्सों में अपने दौरे जारी रखेंगे ताकि लोगों की समस्याओं को समझकर उनका समाधान किया जा सके. मनीष सिसोदिया सरकारी स्कूलों, आंगनबाड़ियों और सिग्नेचर ब्रिज जैसे अनेक इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्टों का निरीक्षण करते रहेंगे.

दिल्ली में शर्मनाक हार पर आत्ममंथन में जुटी कांग्रेस, पराजय के कारणों का पता लगाएगी

कैबिनेट मंत्री सत्येंद्र जैन अस्पतालों, मोहल्ला क्लीनिकों, सड़कों, पीडब्ल्यूडी और सिंचाई व बाढ़ नियंत्रण के कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्टों के साथ-साथ बिजली, हेल्थकेयर और लोगों के रोजमर्रा जीवन से जुड़ी अन्य सेवाओं से संबंधित कामकाज का जायजा लेंगे. वे मंगलवार से अपना ज्यादातर समय जनता के बीच बिताएंगे.

अरविंद केजरीवाल ने कार्यकर्ताओं को चुनाव में मिली हार के बताए दो कारण, कहा- इस वजह से नहीं मिला वोट

मंत्री गोपाल राय भी मंगलवार से जनता के बीच रहेंगे. वे अपने विभागों से संबंधित विभिन्न योजनाओं और कदमों का जायजा लेंगे. इसके अलावा राय दिल्ली में न्यूनतम वेतन लागू करने को लेकर भी विभिन्न हिस्सों का दौरा किया करेंगे. वे विभिन्न संस्थानों में औचक निरीक्षण करके यह पता करेंगे कि वहां काम करने वालों को न्यूनतम वेतन मिल रहा है या नहीं. पहले न्यूनतम वेतन लागू न होने के कई मामले सामने आ चुके हैं.

VIDEO : क्या खिसक रही है आम आदमी पार्टी की सियासी जमीन


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मंत्री कैलाश गहलोत ट्रांसपोर्ट अथॉरिटियों, सब-रजिस्ट्रार ऑफिसों,एसडीएम ऑफिसों इत्यादि का औचक निरीक्षण करके पता लगाएंगे कि इन दफ्तरों में जनता के कामकाज ठीक तरह से हो रहे हैं या नहीं. इसी तरह मंत्री राजेंद्र पाल गौतम,
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन मंगलवार से औचक निरीक्षण करेंगे.