राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के सम्‍मान में आयोजित फेयरवेल डिनर में शामिल नहीं होंगे सीएम नीतीश कुमार

पीएम मोदी ने आज राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के सम्‍मान में फेयरवेल डिनर का आयोजन किया है

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के सम्‍मान में आयोजित फेयरवेल डिनर में शामिल नहीं होंगे सीएम नीतीश कुमार

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के फेयरवेल डिनर में शामिल नहीं होंगे बिहार के सीएम नीतीश कुमार

पटना :

Bihar News: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) आज प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) के सम्मान में आयोजित डिनर में शामिल नहीं होंगे. इससे पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा हर घर तिरंगा फहराने के सम्बंध में रविवार को मुख्यमंत्रियों के वर्चुअल सम्मेलन में भी सीएम ने भाग नहीं लिया थे और अपनी जगह उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद को नामांकित किया था. गौरतलब है कि पीएम मोदी ने आज राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के सम्‍मान में फेयरवेल डिनर का आयोजन किया है. दिल्‍ली के अशोका होटल में राष्‍ट्रपति कोविंद के सम्‍मान में यह डिनर रखा गया है.  

देश के 14वें राष्ट्रपति के तौर पर 25 जुलाई 2017 को शपथ लेने वाले कोविंद पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद रविवार को राष्ट्रपति भवन से विदाई लेंगे. उनके कार्यकाल के दौरान ही कोरोना वायरस महामारी का अप्रत्याशित दौर आया. कोविंद ने जमीनी स्तर से लेकर शीर्ष न्यायालय व संसद तक कार्य के अपने वृहद अनुभव से राष्ट्रपति कार्यालय को समृद्ध किया. द्रौपदी मुर्मू राष्ट्र की 15वीं राष्ट्रपति बन गई हैं, वे रामनाथ कोविंद का स्‍थान लेंगी. द्रौपदी मुर्मू का शपथ ग्रहण समारोह 25 जुलाई सोमवार को होगा. मुर्मू को राष्‍ट्रपति चुनाव में कुल 64.03 प्रतिशत वोट मिले हैं. खबर है कि उनके पक्ष में जबर्दस्त क्रॉस वोटिंग हुई है. बीजेपी नेताओं के मुताबिक विपक्ष के 17 सांसदों ने क्रॉस वोटिंग की है. जबकि बड़ी संख्या में विपक्ष के विधायकों ने भी मुर्मू के पक्ष में वोट डाले हैं. बीजेपी नेताओं का दावा है कि सौ से भी अधिक विपक्षी विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की है. सबसे अधिक क्रॉस वोटिंग असम में हुई है. असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने बताया कि राज्य में एनडीए के 79 विधायक हैं. जबकि वहां मुर्मू को 104 वोट मिले यानी वहां विपक्ष के 25 विधायकों ने मुर्मू को वोट दिया है.

* द्रौपदी मुर्मू की जीत में हुई क्रॉस वोटिंग ने खोली विपक्षी एकता की पोल
* दिल्ली के LG ने केजरीवाल सरकार की शराब नीति की CBI जांच की सिफारिश की
* सीएम योगी से मुलाकात के बाद राज्यमंत्री दिनेश खटीक ने अपना इस्तीफा वापस लिया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


"BJP को खुश करना...":TMC के उपराष्ट्रपति चुनाव से दूरी बनाने पर बोले कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी