डॉक्टर दोस्तों ने मेरा फोन उठाना बंद कर दिया" : कोरोना संकट पर बोले बिहार BJP चीफ

बिहार बीजेपी अध्यक्ष ने फेसबुक पोस्ट में कहा कि अभी तक चंपारण में हम लोगों ने बेड और ऑक्सीजन की प्रशासन के साथ मिलकर पूरी व्यवस्था कर रखी है. पर अब वहां भी सुविधाएं खत्म हो रही हैं.

डॉक्टर दोस्तों ने मेरा फोन उठाना बंद कर दिया

आज भी करोना का सिर्फ एक शर्तिया इलाज है, मास्क पहनना और 2 गज दूरी बरकरार रखना: जायसवाल

पटना:

बिहार में कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी से हालात बिगड़ते जा रहे हैं. बेड और मेडिकल ऑक्सीजन जैसी बुनियादी चीजें खत्म हो रही हैं. इस बीच बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने लोगों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने का आग्रह किया है. उन्होंने फेसबुक पोस्ट में लिखा, "पिछले कुछ दिनों में कुछ अपनों को और बहुत सारे अपनों के अपनों को खो चुका हूं. खासकर दिल्ली में चाह कर भी बिहार के लोगों की अब मदद नहीं कर पा रहा हूं. स्थिति यह है कि जो मेरे करीबी डॉक्टर मित्र हैं उन्होंने अब फोन उठाना बंद कर दिया है क्योंकि वह भी बेचारे चाह कर भी कुछ कर नहीं पा रहे हैं."

जायसवाल पेशे से डॉक्टर भी हैं. उन्होंने कहा कि आज भी करोना का सिर्फ एक शर्तिया इलाज है, मास्क पहनना और 2 गज दूरी बरकरार रखना. बचाव आप नहीं करते हैं और सजा पूरे परिवार को भोगनी पड़ती है. मैं खुद भी इसका भुक्तभोगी पिछले साल जुलाई में हो चुका हूं. 

बिहार बीजेपी अध्यक्ष ने फेसबुक पोस्ट में कहा कि अभी तक चंपारण में हम लोगों ने बेड और ऑक्सीजन की प्रशासन के साथ मिलकर पूरी व्यवस्था कर रखी है. पर अब वहां भी सुविधाएं खत्म हो रही हैं. बेतिया में 90 बेड और बढ़ाने का प्रयास हम लोग कर रहे हैं. दुखद स्थिति यह है कि पश्चिम चंपारण में जहां पॉजिटिविटी रेट 30% पहुंच चुकी है, फिर भी ज्यादातर लोग समझने को तैयार नहीं हैं. शादी हो या श्राद्ध सब वैसे ही बुलाने और आने के लिए परेशान हैं.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com