चुनाव आयोग ने बिहार चुनाव, उपचुनावों में स्टार प्रचारकों की संख्या घटायी

कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के दौर में चुनाव के लिए प्रचार में बड़ी संख्या में लोगों के एकत्र होने की संभावनाओं से चिंतित भारत निर्वाचन आयोग ने ‘स्टार प्रचारकों’ की संख्या 40 से घटाकर 30 कर दी है.

चुनाव आयोग ने बिहार चुनाव, उपचुनावों में स्टार प्रचारकों की संख्या घटायी

नीतीश कुमार के साथ सुशील मोदी (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के दौर में आसन्न बिहार विधानसभा चुनाव और कई राज्यों में हो रहे उपचुनावों के लिए प्रचार में बड़ी संख्या में लोगों के एकत्र होने की संभावनाओं से चिंतित भारत निर्वाचन आयोग ने बुधवार को सभी मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय और क्षेत्रीय दलों के लिए ‘स्टार प्रचारकों' की संख्या 40 से घटाकर 30 कर दी है.

महामारी के दौर में गैर मान्यता प्राप्त क्षेत्रीय दलों के लिए स्टार प्रचारकों की संख्या 20 से कम करके 15 कर दी गई है.
सभी मुख्य निर्वाचन अधिकारियों को लिखे पत्र में चुनाव आयोग ने कहा है कि चुनाव के संबंधित चरण की अधिसूचना जारी होने के 10 दिन के भीतर पार्टियां अपने स्टार प्रचारकों की सूची सौंप सकती हैं. पहले उन्हें सात दिन का समय मिलता था.

यह भी पढ़ें: नीतीश कुमार अपने उम्मीदवारों की सूची से खुश क्यों हैं?

भारत में आठ मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय दल हैं... भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी (बसपा), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा), तृणमूल कांग्रेस, भाकपा, माकपा और एनपीपी. आयोग ने कहा कि बिहार दौरे पर उसे स्टार प्रचारकों के कारण बड़ी संख्या में लोगों के एकत्र होने की संभावनाओं के बारे में बताया गया.

एक अक्टूबर को हुए संवाददाता सम्मेलन में ऐसी यात्राओं, विशेष रूप से हेलीकॉप्टर के उतरने के दौरान वहां बड़ी संख्या में लोगों की उपस्थिति से स्वास्थ्य के खतरे पर स्पष्टीकरण मांगा गया था. पत्र में कहा गया है, ‘‘आयोग ने बुधवार को मुद्दे पर फिर से चर्चा की. सभी तथ्यों और महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थितियों और राजनीतिक दलों द्वारा प्रचार करने की जरुरतों के संतुलन को ध्यान में रखते हुए, आयोग ने स्टार प्रचारकों के लिए नियमों की समीक्षा का फैसला लिया.'' बिहार में 28 अक्टूबर, तीन और सात नवंबर को तीन चरणों में मतदान होना है. राज्य में विभिन्न रिक्त सीटों पर तीन और सात नवंबर को उपचुनाव होने हैं.

बिहार बीजेपी के नेताओं ने क्यों एक दर्जन बार कहा कि नीतीश ही होंगे मुख्यमंत्री?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)