VIDEO: लालू यादव ने सालों बाद चलाई अपनी पहली गाड़ी, साथ में लिखा यह 'गंभीर' संदेश

बिहार के पूर्व सीएम लालू यादव ने कई सालों के बाद अपनी पहली गाड़ी चलाई जिसका वीडियो उन्‍होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर डाला है.

VIDEO: लालू यादव ने सालों बाद चलाई अपनी पहली गाड़ी, साथ में लिखा यह 'गंभीर' संदेश

लालू यादव ने लंबे अरसे के बाद चार पहिया वाहन चलाया और इसका वीडियो ट्वीट किया

पटना :

Bihar: राष्‍ट्रीय जनता दल सुप्रीमो और बिहार के कद्दावर नेता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav)भले ही पूरी तरह से स्‍वस्‍थ नहीं है लेकिन उनका उत्‍साह और हास्‍यबोध जस का तस है. बिहार के पूर्व सीएम लालू यादव ने कई सालों के बाद अपनी पहली गाड़ी को चलाया जिसका वीडियो उन्‍होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर डाला है. लालू ने लिखा, 'आज वर्षों बाद अपनी प्रथम गाड़ी को चलाया. इस संसार में जन्मे सभी लोग किसी ना किसी रूप में ड्राइवर ही तो है.आपके जीवन में प्रेम, सद्भाव, सौहार्द, समता, समृद्धि, शांति, सब्र, न्याय और खुशहाली रूपी गाड़ी सबको साथ लेकर सदा मजे से चलती रहे.' अपने मैसेज में उन्‍होंने लिखा-इस संसार में जन्‍मे सभी लोग किसी ने किसी रूप में ड्राइवर ही हो हैं. इस गंभीर बात से इस हंसोड़ राजनेता ने अपने भीतर की संजीदगी को भी व्‍यक्‍त किया है..

'ओवैसी और जिन्ना में कोई फर्क नहीं' : यूपी में 'शाहीनबाग' की धमकी पर BJP नेता

PM ने जैसे कृषि कानून वापस लिए, नीतीश भी शराबबंदी कानून वापस लें : BJP विधायक


गौरतलब है कि अस्‍वस्‍थ होने के कारण लालू इस समय सियासत के मैदान पर ज्‍यादा सक्रिय नहीं हैं.चारा घोटालों में दोषी ठहराए गए लालू  इसी साल मई में जमानत पर रिहा हुए हैं.सियासी मैदान से लालू भले हीअनुपस्थित हैं लेकिन वे ट्वीट या बयान के जरिये राज्‍य की नीतीश कुमार सरकार के खिलाफ हमलावर रुख अख्तियार किए हुए हैं. शराबबंदी मामले को लेकर भी उन्‍होंने सीएम नीतीश कुमार को आड़े हाथ लिया था. उन्‍होंने हाल ही में संवाददाताओं से बातचीत के दौरान शराब तस्करी के मामले में बिहार की तुलना एक ‘‘टापू'' के रूप में करते हुए आरोप लगाया कि चारों तरफ से इसकी तस्करी हो रही है और अब राजस्व भी हासिल नहीं हो पा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि लोग मर रहे हैं और शराब की होम डिलीवरी हो रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


लालू ने सोमवार को दावा किया कि बिहार में शराबबंदी के समय उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को आगाह किया था कि अन्य राज्यों से शराब की तस्करी रोक पाना काफी मुश्किल होगा पर उन्होंने (नीतीश) इसे सफलतापूर्वक लागू करने का भरोसा दिया था.बिहार की पिछली महागठबंधन सरकार में लालू प्रसाद की पार्टी राजद के साथ सत्ता में रहे नीतीश के शराबबंदी के निर्णय को लेकर लालू का यह बयान उस समय आया है जब प्रदेश में हाल के दिनों में जहरीली शराब पीने से बड़ी संख्या में लोगों की मौत होने पर राज्य की पुलिस पर शराब की बिक्री और खपत पर लागू प्रतिबंध को प्रभावी ढंग से लागू करने को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं.