कोरोना संक्रमित मरीज का शव पीपीई किट पहनाकर परिजन को सौंपा

बिहार के गोपालगंज के सदर अस्पताल में कोविड प्रोटोकाल का उल्लंघन, शव को परिजन गोद में उठाकर ले गए

कोरोना संक्रमित मरीज का शव पीपीई किट पहनाकर परिजन को सौंपा

कोरोना संक्रमण के कारण मृत महिला का शव ले जाते हुए उसके परिजन.

पटना:

Bihar Coronavirus: बिहार के गोपालगंज (Goplaganj) के सदर अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है. यहां एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो जाने पर बजाय शव को कोविड प्रोटोकाल के मुताबिक पैक करने के पीपीईई किट पहना दी और शव उसके परिजनों को सौंप दिया. मृतक के परिजन शव को गोद मे लेकर अस्पताल से निकले.

गोपालगंज सदर अस्पताल प्रशासन की लापरवाही बार-बार उजागर हो रही है. फिर भी प्रशासन संभलने का नाम नहीं ले रहा है. आज भी एक ऐसी लापरवाही देखने  को मिली जिससे सवाल पैदा हुआ कि कोरोना की चेन क्या ऐसे में कभी टूटेगा? अस्पताल में आज कोरोना से  संक्रमित मरीज के  शव को बिना पैक किए केवल पीपीई किट पहनाकर परिजनों को सौप दिया गया. हैरत तो उस समय हुई जब उन्हें स्ट्रेचर भी नहीं दिया गया. मृतक के परिजन शव को गोद में उठाकर अस्पताल से बाहर निकले और निजी वाहन में शव को ले गए.

मृतक के परिजन में शामिल सोनू कुमार नामक युवक ने बताया कि उत्तर प्रदेश के देवरिया की रहने वाली महिला अपने रिश्तेदार के घर गोपालगंज आई थी, तभी उसको सांस लेने में समस्या होने लगी. इसके बाद उसे गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. यहीं उसकी कोरोना की जांच कराई गया तो वह पॉजिटिव पाई गई. तीन मई से सदर अस्पताल के एक वार्ड में उसका इलाज चल रहा था. आज उस महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई. 


महिला की मौत के बाद गोपालगंज सदर अस्पताल प्रशासन ने मृत महिला के लिए पीपीई किट देकर उसे छोड़ दिया. उसके परिजन उसे पीपीई किट खुद ही पहनाकर गोद में उठाकर गाड़ी तक ले गए. परिजनों ने बताया कि सदर अस्पताल में स्ट्रेचर का अभाव है. अस्पताल में सिर्फ एक स्ट्रेचर है जिस पर मरीज का इलाज चल रहा है. इसकी वजह से स्ट्रेचर भी नहीं मिला और मजबूरन कोरोना संक्रमित शव को उठाकर गोद मे ही ले जाना पड़ा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गोपालगंज सदर अस्पताल की लापरवाही की यह कोई पहली तस्वीर नही है. ऐसी लापरवाही आए दिन अस्पताल प्रशासन की तरफ से की जाती है.