आख़िर क्यों सासाराम रेलवे स्टेशन पर रोज़ पढ़ने आते हैं IIT और IIM की तैयारी करने वाले छात्र?

पढ़ने की इचिछा हो और जज्बा हो तो इंसान किसी भी परिस्थिति में पढ़ सकता है. अभी हाल ही में सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुई है, जिसमें देखा जा सकता है कई छात्र एक साथ एक प्लेटफॉर्म पर पढ़ाई कर रहे हैं. इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर एक रेलवे अधिकारी ने शेयर की है.

आख़िर क्यों सासाराम रेलवे स्टेशन पर रोज़ पढ़ने आते हैं IIT और IIM की तैयारी करने वाले छात्र?

पढ़ने की इचिछा हो और जज्बा हो तो इंसान किसी भी परिस्थिति में पढ़ सकता है. अभी हाल ही में सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुई है, जिसमें देखा जा सकता है कई छात्र एक साथ एक प्लेटफॉर्म पर पढ़ाई कर रहे हैं. इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर एक रेलवे अधिकारी ने शेयर की है. इस तस्वीर के साथ उन्होंने एक जानकारी भी शेयर की है. उन्होंने लिखा है- यह तस्वीर है बिहार के सासाराम रेलवे स्टेशन की, जहां हर रोज़ सुबह और शाम 2 घंटे के लिए प्लेटफॉर्म नम्बर 1 और 2 स्टडी क्लास में तब्दील हो जाते हैं. यहां युवा सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों, IIT और IIM में प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों की तैयारी करवाई जाती है.

देखें वायरल तस्वीर


जानकारी के मुताबिक, इसकी शुरुआत 2002 में हुई थी, उस समय कुछ छात्र आकर इस स्टेशन पर आकर पढ़ाई करते थे. इसकी वजह थी कि यहां 24 घंटे बिजली रहती थी. आज शहर के कई छात्र इस स्टेशन पर आकर अपनी पढ़ाई करते हैं. आज स्थिति ये हो गई है कि सासाराम रेलवे स्टेशन एक संस्था बन गया है, जहां छात्र पढ़ाई करते हैं. जानकारी के मुताबिक, यहां के ज्यादातर छात्र बिहार के रोहतास जिले से आते हैं, जहां के गांवों में बिजली की सुविधा उपलब्ध नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सोशल मीडिया पर यह तस्वीर बहुत ही ज्यादा वायरल हो रही है. इस तस्वीर को Ananth Rupanagudi नाम के रेलवे अधिकारी ने 2021 में शेयर की थी. कोविड के समय बच्चे नहीं आते हैं. ऐसे में अभी यह स्पष्ट रूप से नहीं कहा जा सकता है कि बच्चे अभी पढ़ाई करने आते हैं या नहीं.