Cyclone Tauktae से मुंबई के Trident Hotel का हिस्सा टूटने का Video हुआ वायरल, जानें क्या है पूरी सच्चाई

एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक बिल्डिंग का हिस्सा टूटकर पार्किंग स्थल में गिरता है और वहां खड़ी कारें क्षतिग्रस्त हो जाती हैं. दावा किया जा रहा है कि क्षतिग्रस्त बिल्डिंग मुंबई के नरीमन प्वाइंट स्थित ट्राइडेंट होटल है, लेकिन सच्चाई कुछ और है.

Cyclone Tauktae से मुंबई के Trident Hotel का हिस्सा टूटने का Video हुआ वायरल, जानें क्या है पूरी सच्चाई

Cyclone Tauktae से मुंबई के Trident Hotel का हिस्सा टूटने का Video हुआ वायरल, जानें क्या है पूरी सच्चाई

मुंबई के ट्राइडेंट होटल (Mumbai Trident Hotel) से निगरानी फुटेज के रूप में खड़ी कारों पर कंक्रीट के एक स्लैब के गिरने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से प्रसारित किया जा रहा है - लेकिन एक साधारण रिवर्स इमेज सर्च से कुछ और ही पता चलता है. इस वीडियो में खड़ी कारों पर इमारत के कुछ बड़े टुकड़े गिरते हुए और उनकी छतों को टूटते हुए दिखाया गया है, ये वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया, जिसमें कैप्शन के साथ चक्रवात ताउते (Cyclone Tauktae) से हुआ नुकसान बताया गया था.

चक्रवात ताउते, "बेहद गंभीर चक्रवाती तूफान" में बदल गया, सोमवार को महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों को बहा डाला. राज्य की राजधानी मुंबई में दिन भर तेज बारिश और तेज हवाएं चलीं. इस बीच, कई वीडियो जो कथित तौर पर चक्रवात से हुई तबाही को दिखाते हैं, सोशल मीडिया पर सामने आए - और जिनमें से एक का मुंबई से कोई लेना-देना नहीं है.

ट्राइडेंट होटल के कथित नुकसान का वीडियो मैसेजिंग प्लेटफॉर्म और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर व्यापक रूप से शेयर किया गया है, जहां कई यूजर्स ने कहा, कि इसे साउथ बॉम्बे होटल में रिकॉर्ड किया गया था.

जबकि कई लोगों ने वीडियो को री-ट्वीट और शेयर किया है, वीडियो को कीफ्रेम में तोड़कर और रिवर्स इमेज सर्च करने से पता चलता है कि फुटेज वास्तव में लगभग एक साल पुराना है. इसे 2020 में YouTube पर पोस्ट किया गया था. जिसके कैप्शन में लिखा है, "तेज हवाओं और बारिश के कारण मदीना में कई कारों पर दीवार गिरने के बाद एक आदमी के जीवित रहने का क्षण देखें."

वीडियो वास्तव में पिछले साल सऊदी अरब के मदीना (Medina in Saudi Arabia) में रिकॉर्ड गया था जब मूसलाधार बारिश ने वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया और पेड़ों को गिरा दिया. जुलाई 2020 के अल जज़ीरा लेख में भी ये वीडियो है.

आकाशवाणी समाचार मुंबई ने भी ट्विटर पर स्पष्ट किया कि ट्राइडेंट मुंबई के पास वाहनों पर संरचनाओं के गिरने की खबरें झूठी हैं.

इसलिए, यह स्पष्ट है कि क्लिप को हाल ही में मुंबई में नहीं, बल्कि 2020 में सऊदी अरब में रिकॉर्ड किया गया था.

दशकों बाद इस क्षेत्र तबाही मचाने वाले सबसे बड़े चक्रवात ताउते ने सोमवार को रात लगभग 8.30 बजे गुजरात में दस्तक दी, जिसमें 155-165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं, जो 190 किमी / घंटा की रफ्तार से चल रही थी.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com