खिलाड़ियों को हुआ कोरोना, स्थगित हुआ PSL, हसन अली बोले - 'नज़र लग गई...' भारतीयों ने ऐसे किया Troll

पीएसएल (PSL Postponed) स्थगित हुआ, तो ट्विटर पर #PSL6 टॉप ट्रेंड करने लगा. पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली (Hasan Ali) ने भी इस पर रिएक्शन दिया है, जिस पर भारतीयों ने ट्रोल (Troll) कर दिया है.

खिलाड़ियों को हुआ कोरोना, स्थगित हुआ PSL, हसन अली बोले - 'नज़र लग गई...' भारतीयों ने ऐसे किया Troll

PSL हुआ स्थगित, तो हसन अली बोले- 'नजर लग गई...' भारतीयों ने ऐसे कर दिया Troll

पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League) में कोरोना संक्रमण के तीन और मामले सामने आने के बाद यह टी20 लीग तुरंत प्रभाव से स्थगित कर दी गई है चूंकि कुल मामलों की संख्या बढकर सात हो गई और क्रिकेट बोर्ड को इसकी जांच की घोषणा करने के लिये बाध्य होना पड़ा. इन सात मामलों में से छह खिलाड़ी और एक सहयोगी स्टाफ का सदस्य है. पीसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वसीम खान ने कहा कि क्या चीज गलत हुई, इसे समझने के लिये जांच की जायेगी. पीएसएल (PSL Postponed) स्थगित हुआ, तो ट्विटर पर #PSL6 टॉप ट्रेंड करने लगा. पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली (Hasan Ali) ने भी इस पर रिएक्शन दिया है, जिस पर भारतीयों ने ट्रोल (Troll) कर दिया है.

पीएसल के स्थगित होने के बाद हसन अली ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'नजर लग गई किसी की हमारी पीएसएल को' उनके ट्वीट पर कई लोगों ने रिएक्शन्स दिए.

भारतीय यूजर्स की नजर ट्वीट पर पड़ी, तो उनको और लीग को बुरी तरह ट्रोल कर दिया. हाल ही में कई लोगों ने पीएसलएल को आईपीएल से ज्यादा अच्छा बताया था. जिसमें अफ्रीकी गेंदबाज डेल स्टेन भी शामिल थे. स्थगित होने के बाद भारतीयों ने लीग को आड़े हाथों लिया और बुरी तरह ट्रोल कर दिया.
 


पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने एक बयान में कहा, ''टीम मालिकों के साथ बैठक और सभी प्रतिभागियों की सेहत और स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने एचबीएल पाकिस्तान सुपर लीग छह को तुरंत प्रभाव से स्थगित करने का फैसला किया है.'' इसमें कहा गया,  ''20 फरवरी से शुरू हुई प्रतियोगिता में कोरोना संक्रमण के सात मामले आने के बाद यह फैसला लिया गया.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने यहां प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ''यह हमारे लिये काफी निराशाजनक है और हम ऐसी स्थिति में पड़ गये हैं जिसमें हम सवाल कर रहे हैं कि हम खिलाड़ियों को पूर्ण सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं या नहीं क्योंकि उनका स्वास्थ्य सर्वोपरि है.''