Amazon पर ऑर्डर किया था iPhone 12, पैकेट खोलने पर निकला 5 रुपए का सिक्का और बर्तन धोने का साबुन

एक फेसबुक पोस्ट में, केरल पुलिस ने कहा, कि विक्रेता ने अमीन को पैसे वापस कर दिए. गुरुवार 22 अक्टूबर को राशि उनके खाते में जमा कर दी गई, लेकिन मामले की जांच जारी है.

Amazon पर ऑर्डर किया था iPhone 12, पैकेट खोलने पर निकला 5 रुपए का सिक्का और बर्तन धोने का साबुन

Amazon पर ऑर्डर किया था iPhone 12, पैकेट खोलने पर निकला 5 रुपए का सिक्का और साबुन

केरल का एक शख्स जिसने Amazon से iPhone 12 ऑर्डर किया था, उसके बदले में उसे एक बर्तन धोने वाला साबुन और एक सिक्का मिला, जिसे देखकर वो हैरान रह गया. अलुवा के मूल निवासी नूरुल अमीन ने 12 अक्टूबर को स्मार्टफोन ऑर्डर दिया था, इसके लिए उन्होंने अपने अमेज़ॅन पे कार्ड का उपयोग करके इसके लिए ₹ 70,900 का भुगतान किया था. न्यू इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, उन्हें 15 अक्टूबर को अपना ऑर्डर मिला था.

हालांकि, अमीन संदिग्ध थे क्योंकि हैदराबाद से भेजे जाने के बाद पैकेज को सलेम में एक दिन के लिए रोक दिया गया था. एक नियमित अमेज़न ग्राहक, वह जानता था कि दो दिनों में ज्यादातर पैकेज हैदराबाद से कोच्चि पहुंचे, लेकिन उसके iPhone 12 के ऑर्डर में तीन दिन लग गए. बढ़ते फ्रॉड के मामलों से वाकिफ उसने अमेजन डिलीवरी पार्टनर के सामने बॉक्स खोला और उसका वीडियो भी शूट किया.

एनआरआई यह देखकर चौंक गया कि उसके बॉक्स में विम साबुन का एक बार और उसके द्वारा ऑर्डर किए गए iPhone 12 के बजाय ₹ 5 का सिक्का था. उन्होंने मातृभूमि को बताया, आइटम एक आईफोन के वजन के समान महसूस हुए.

नूरुल अमीन ने तुरंत अमेज़न कस्टमर केयर को फोन किया और पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. साइबर पुलिस स्टेशन को जांच शुरू करने के बाद पता चला कि झारखंड में किसी ने 25 सितंबर से आईफोन का इस्तेमाल किया था. जो फोन 15 दिन पहले अमीन ने बुक किया था.


"हमने अमेज़न के अधिकारियों और तेलंगाना स्थित विक्रेता से संपर्क किया. इस साल 25 सितंबर से झारखंड में फोन का इस्तेमाल किया जा रहा है, भले ही ऑर्डर अक्टूबर में दिया गया था. जांच दल के एक अधिकारी ने कहा, जब हमने विक्रेता से संपर्क किया, तो उन्होंने कहा कि फोन स्टॉक से बाहर था और नूरुल द्वारा भुगतान की गई राशि वापस कर दी जाएगी. "

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


एक फेसबुक पोस्ट में, केरल पुलिस ने कहा, कि विक्रेता ने अमीन को पैसे वापस कर दिए. गुरुवार 22 अक्टूबर को राशि उनके खाते में जमा कर दी गई, लेकिन मामले की जांच जारी है.