ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर कांग्रेस का 'इमोशनल' ट्वीट, लिखा- 'घर छोड़कर मत जाओ, कहीं घर न मिलेगा...'

MP Government Crises: Jyotiraditya scindia ने कांग्रेस (Congress) की सदस्‍यता से इस्‍तीफा देकर सभी को हैरान कर द‍िया है. कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं. मध्यप्रदेश कांग्रेस (MP Congress) ने एक कविता शेयर की.

ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर कांग्रेस का 'इमोशनल' ट्वीट, लिखा- 'घर छोड़कर मत जाओ, कहीं घर न मिलेगा...'

ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर कांग्रेस का 'इमोशनल' ट्वीट

खास बातें

  • सिंधिया को केंद्र सरकार में मंत्री पद मिलने की हैं अटकलें
  • 22 विधायकों के इस्‍तीफे से कमलनाथ सरकार संकट में
  • कांग्रेस और भाजपा अपने-अपने विधायकों को बचाने में लगीं

MP Government Crises: ज्‍योत‍िराद‍ित्‍य स‍िंधिया (Jyotiraditya scindia) ने कांग्रेस पार्टी (Congress) की सदस्‍यता से इस्‍तीफा देकर हर क‍िसी को हैरान कर द‍िया है. सिंधिया के साथ ही उनके समर्थक पार्टी के 22 विधायकों के इस्तीफे से राज्य की कमलनाथ सरकार (Kamalnath Government) पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं. 18 साल तक कांग्रेस का साथ देने वाले 49 वर्षीय सिंधिया केंद्र (Jyotiraditya scindia) में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं. मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार पर अब बहुमत साबित करने का संकट है. इसी बीच मध्यप्रदेश कांग्रेस (MP Congress) के ट्विटर हैंडल पर एक कविता शेयर की गई है. ट्विटर पर लिखा है, ''घर छोड़कर मत जाओ, कहीं घर न मिलेगा..''

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने खराब किया कांग्रेस का 'खेल', बीजेपी ने ऐसे किया OUT, वायरल हुआ ये Funny Video

कविता इस प्रकार है...

सम्मान-सौहार्द का,
ये मंज़र न मिलेगा,
घर छोड़ कर मत जाओ,
कहीं घर न मिलेगा.

याद बहुत आयेंगे,
रिश्तों के ये लम्बे बरस,
साया जब वहाँ कोई,
सर पर न मिलेगा.

नफ़रत के झुंड में,
आग तो मिलेगी बहुत,
पर यहाँ जैसा कहीं,
प्यार का दर न मिलेगा.

घर छोड़कर मत जाओ,
कहीं घर न मिलेगा.

MP में सियासी घमासान...
मंगलवार सुबह जब पूरा देश होली का जश्न मना रहा था, तभी सिंधिया ने भाजपा के वरिष्ठ नेता और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके 7, लोक कल्याण मार्ग स्थित आवास पर मुलाकात की. बैठक में क्या बातचीत हुई, इस बारे में आधिकारिक रूप से कुछ भी नहीं कहा गया है. अब दोनों पार्टियां कांग्रेस और भाजपा अपने-अपने विधायकों को बचाने में लगी हैं. 


MP Govt Crisis: क्या BJP के पाले में पूरी तरह से अब भी नहीं आई गेंद? सिंधिया खेमे के 10 MLA और 2 मंत्री BJP में जाने को तैयार नहीं!

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सिंधिया के साथ ही उनके समर्थक पार्टी के 22 विधायकों के इस्तीफे से राज्य की कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं. कांग्रेस छोड़ने वाले 49 वर्षीय सिंधिया केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं. उनकी दादी दिवंगत विजय राजे सिंधिया इसी पार्टी में थीं. ऐसी अटकले हैं कि सिंधिया को राज्यसभा का टिकट दिया जा सकता है और उन्हें केंद्रीय मंत्री बनाया जा सकता है.