जुगाड़ का नाम है बिहार : स्कूल में एक ही ब्लैकबोर्ड पर हिंदी और उर्दू पढ़ाते दिखे टीचर, वायरल हुआ वीडियो

अगर बिहार का नाम जुगाड़ु प्रदेश कर दिया जाए तो गलत नहीं होगा. इसके पीछे कई कहानियां, इतिहास हैं. यहां चूहे शराब पी जाते हैं, तो लोग रेलवे पुल चुरा लेते हैं. इतना ही नहीं, शिक्षा के मामले में इस प्रदेश में कई रोचक कहानियां भी मौजूद हैं.

जुगाड़ का नाम है बिहार : स्कूल में एक ही ब्लैकबोर्ड पर हिंदी और उर्दू पढ़ाते दिखे टीचर, वायरल हुआ वीडियो

अगर बिहार का नाम जुगाड़ु प्रदेश कर दिया जाए तो गलत नहीं होगा. इसके पीछे कई कहानियां, इतिहास हैं. यहां चूहे शराब पी जाते हैं, तो लोग रेलवे पुल चुरा लेते हैं. इतना ही नहीं, शिक्षा के मामले में इस प्रदेश में कई रोचक कहानियां भी मौजूद हैं. अभी हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक ही समय में एक ही ब्लैकबोर्ड पर दो टीचरों को हिंदी और उर्दू सीखाते देखा जा रहा है. जी हां, आप सच पढ़ रहे हैं. ऐसा लग रहा है कि हिन्दू-मुस्लिम की एकता का पाठ बिहार से ही शुरु हो रहा है.

देखिए रिपोर्ट

वायरल हो रहे वीडियो को बिहार के कटिहार में आदर्श मिडिल स्कूल में रिकॉर्ड किया गया है. जिसे सोशल मीडिया पर एएनआई न्यूज एजेंसी ने शेयर किया है. वीडियो में दो शिक्षक एक ब्लैकबोर्ड के दोनों ओर दो अलग-अलग भाषाएँ पढ़ाते हुए दिखाई दे रहे हैं. जिसमें महिला टीचर क्लास को हिंदी पढ़ा रही हैं तो वहीं एक अध्यापक बच्चों को उर्दू पढ़ा रहे हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सोशल मीडिया पर यह वीडियो बहुत ही तेज़ी से वायरल हो रहा है. समाचार एजेंसी एएनआई ने इस पर अपनी रिपोर्ट दी है. समाचार एजेंसी के अनुसार, ब्लैकबोर्ड की कमी के कारण ऐसा किया जा रहा है.