Pakistan Train Accident: सिंध प्रात में पटरी से उतरकर दूसरी ट्रेन से टकराई मिल्लत एक्सप्रेस, 36 की मौत

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के घोट ज़िले में ट्रेन हादसे में 36 लोगों की मौत हो गई. दुर्घटना सिंध प्रांत के घोटकी ज़िले के रेती और दहारकी स्टेशनों के बीच हुई, जहां मिल्लत एक्सप्रेस के पटरी से उतरने के बाद सर सैयद एक्सप्रेस से टकरा गई.

Pakistan Train Accident: सिंध प्रात में पटरी से उतरकर दूसरी ट्रेन से टकराई मिल्लत एक्सप्रेस, 36 की मौत

पाकिस्तान में ट्रेन हादसा : मिल्लत एक्सप्रेस के पटरी से उतरने के बाद सर सैयद एक्सप्रेस से टकरा गई

इस्लामाबाद:

पाकिस्तान के सिंध प्रांत के घोट ज़िले में ट्रेन हादसे में 36 लोगों की मौत और कई घायल हुए हैं. दुर्घटना सिंध प्रांत के घोटकी ज़िले के रेती और दहारकी स्टेशनों के बीच हुई, जहां मिल्लत एक्सप्रेस के पटरी से उतरने के बाद सर सैयद एक्सप्रेस से टकरा गई. सूचना मिलते ही मौके पर राहत टीम रवाना हो गई. बचाव अभियान जारी है.

चश्मदीदों के मुताबिक- सब मिल्लत एक्सप्रेस पटरी से उतरकर दूसरी ट्रेन से टकराई तो उस समय ज्यादातक यात्री सो रहे थे. यही नहीं राहत और बचावकर्मी हादसा होने के करीब डेढ़ घंटे बाद घटनास्थल पर पहुंचे, तब तक वहां मौजूद लोगों ने फंसे लोगों को बाहर निकाला. दुर्घटना होने के बाद दोनों ट्रैक बंद कर दिए गए हैं. 


पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट किया कि आज तड़के हुए भयावह ट्रेन हादसे से स्तब्ध हूं, इसमें 30 यात्रियों की जान चली गई. रेलवे मंत्री से घटनास्थल पर पहुंचने तथा मृतकों के परिजनों को मदद देने और घायलों को चिकित्सीय सहायता उपलब्ध करवाने को कहा है. रेलवे में सुरक्षा संबंधी खामियों की विस्तृत जांच के आदेश दे रहा हूं. 

डॉन न्यूज के मुताबिक- सिंध प्रांत के सीएम मंत्री मुराद अली शाह ने दुर्घटना में लोगों की मौत पर दुख जताया. उन्होंने अधिकारियों से यात्रियों के लिए अस्थायी आवास एवं भोजन-पानी की व्यवस्था करने को कहा. राहत और बचाव कार्य में मदद देने के लिए पाकिस्तान रेंजर्स के जवान भी घटनास्थल पर भेजा गया है.

पाकिस्तान में ट्रेन और बस की टक्कर में 21 लोगों की मौत, मरने वालों में ज्यादातर सिख तीर्थयात्री


बता दें कि पाकिस्तान में अक्सर ट्रेन हादसे होते रहते हैं. पटरियों की हालत खराब है. आज भी अंग्रेजों के जमाने की बिछाई हुई पटरियां है. भ्रष्टाचार के चलते रेल नेटवर्क पर सही से काम नहीं किया गया है. अक्टूबर 2019 में भी कराची से रावलपिंडी जाते समय एक ट्रेन में आग लगने से करीब 75 लोगों की मौत हो गई थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com