COVID-19 से बचाव के लिए डोनाल्ड ट्रंप जो दवा ले रहे हैं, बेहतर होगा उसका परीक्षण किया जाए : WHO

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मलेरिया के इलाज में काम आने वाली जो दवा कोरोना वायरस से बचाव के लिए ले रहे है, उसके असर के बारे में अभी तक कोई स्पष्ट वैज्ञानिक आधार नहीं मिला है.

COVID-19 से बचाव के लिए डोनाल्ड ट्रंप जो दवा ले रहे हैं, बेहतर होगा उसका परीक्षण किया जाए : WHO

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  • दवाई के असर के बारे में अभी तक कोई स्पष्ट वैज्ञानिक आधार नहीं मिला
  • ट्रंप ने सोमवार को कहा था कि वह हाइड्रॉक्सिक्लोरोक्वीन ले रहे हैं
  • संभावित उपचारों का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परीक्षण हो रहा है
जिनेवा:

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मलेरिया के इलाज में काम आने वाली जो दवा कोरोना वायरस से बचाव के लिए ले रहे है, उसके असर के बारे में अभी तक कोई स्पष्ट वैज्ञानिक आधार नहीं मिला है. संगठन ने कहा कि वह कोविड-19 में दवा के इस्तेमाल की सिफारिश अभी भी केवल नियंत्रित नैदानिक परीक्षणों के लिए करता है. गौरतलब है कि ट्रंप ने सोमवार को कहा था कि वह हाइड्रॉक्सिक्लोरोक्वीन ले रहे हैं. डब्ल्यूएचओ में आपातकालीन सेवा के प्रमुख डॉ. माइकल रेयान ने कहा कि जिन संभावित उपचारों का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परीक्षण हो रहा है, यह उनमें से एक है.


उन्होंने कहा कि इन उपचारों के बारे में पता लगाया जा रहा है कि वे कोरोना वायरस के खिलाफ प्रभावी है या नहीं. रेयान की बुधवार को आई टिप्पणी से संकेत मिलते हैं कि कोरोना वायरस महामारी को लेकर ट्रंप द्वारा बार-बार की जा रही उसकी आलोचना के आगे वह झुकने वाला नहीं है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि देशों की अपनी पसंद हो सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं अमेरिका में भारतीय मूल के एक डॉक्टर की कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मृत्यु हो गई. अमेरिकन फिजिशियन्स ऑफ इंडियन-ओरिजिन (AAPI) ने यह जानकारी दी. AAPI के मीडिया समन्वयक अजय घोष ने बुधवार को एक बयान में कहा कि सुधीर एस चौहान को कोविड​​-19 से संक्रमित पाया गया था और पिछले कुछ हफ्तों से वह अपने जीवन के लिए जूझ रहे थे. 19 मई को बीमारी से उनकी मृत्यु हो गई. चौहान न्यूयॉर्क के जमैका अस्पताल में एक इंटरनल मेडिसिन फिजिशियन और आईएम रेजीडेंसी प्रोग्राम के एसोसिएट प्रोग्राम डाइरेक्टर थे. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)