Pfizer की कोविड वैक्सीन 94 फीसदी प्रभावी, वैश्विक अध्ययन में हुआ साबित

हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के शोधकर्ता और रिसर्च पेपर के लेखकों में से एक बेन रीस ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "यह वास्तविक दुनिया की स्थितियों में टीके की प्रभावशीलता की जांच के लिए बड़े पैमाने पर पहला पीर रिव्यू सबूत है."

Pfizer की कोविड वैक्सीन 94 फीसदी प्रभावी, वैश्विक अध्ययन में हुआ साबित

Pfizer की कोविड वैक्सीन कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने में 94 फीसदी कारगर रही है.

वाशिंगटन:

दुनिया की दिग्गज दवा कंपनियों में शुमार फाइजर (Pfizer) की कोविड वैक्सीन  (COVID-19 vaccine)कोरोनावायरस (Coronavirus) संक्रमण को रोकने में 94 फीसदी कारगर रही है. बुधवार को प्रकाशित एक व्यापक ग्लोबल स्टडी रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. इस स्टडी में इजरायल के 12 लाख लोग शामिल थे, जिन पर फाइजर के टीके का सकारात्मक परिणाम देखने को मिला है. इन सबने फाइजर की वैक्सीन की संक्रमण रोकने की प्रभावशीलता की पुष्टि की है.

अच्छी खबर यह है कि घाना वैश्विक Covax योजना के तहत वैक्सीन शॉट्स प्राप्त करने वाला पहला देश बन गया है. इस योजना से अब गरीब देशों के लिए भी दुनिया के अमीर देशों के साथ वैक्सीन प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त हो गया है.

न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित इज़राइली अध्ययन से यह बात भीसामने आई है कि  संक्रमण के खिलाफ एक मजबूत सुरक्षात्मक लाभ मिला है जो कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव को रकता है.

फाइजर COVID-19 की एक खुराक का ही प्रभावी असर दिखाई देता है : स्टडी

हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के शोधकर्ता और रिसर्च पेपर के लेखकों में से एक बेन रीस ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "यह वास्तविक दुनिया की स्थितियों में टीके की प्रभावशीलता की जांच के लिए बड़े पैमाने पर पहला पीर रिव्यू सबूत है." इसमें लगभग 600,000 लोग शामिल थे जिन्होंने कोविड वैक्सीन प्राप्त किए और उतनी ही समान संख्या में वैक्सीन नहीं लेने वाले लोग शामिल किए गए थे, जो उम्र, लिंग, भौगोलिक, चिकित्सा और अन्य विशेषताओं द्वारा उनके टीकाकृत समकक्षों से काफी निकटस्थ थे.

अमेरिकी कंपनी फाइजर का दावा, सामान्य फ्रिज में रखी जा सकती है उसकी कोरोना वैक्सीन


स्टडी में ये बात सामने आई कि फेज तीन ट्रायल के दौरान वैक्सीन की दूसरी डोज या सात दिन के बाद कोरोना वायरस के लक्षण वाले 94 फीसदी मरीजों में प्रभावशीलता बढ़कर  95 फीसदी के करीब हो गई. बुधवार तक पूरी दुनिया में 217 मिलियन लोगों को कोविड वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि  फाइजर ने भारत में कोरोना वैक्सीन के आपातकाल इस्तेमाल की मंजूरी के लिए दिए अपने आवेदन को वापस ले लिया है. फाइजर ने 5 फरवरी को यह जानकारी दी थी. फाइजर पहली कंपनी थी, जिसने भारत में वैक्सीन के आपात उपयोग की अनुमति के लिए औषधि नियामक ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) के समक्ष आवेदन किया था. इससे पहले, कंपनी को ब्रिटेन और बहरीन में इस तरह की मंजूरी मिल चुकी थी.