म्यांमार चुनाव में नोबेल विजेता आंग सान सू की की पार्टी को बहुमत

म्यांमार चुनाव में नोबेल विजेता आंग सान सू की की पार्टी को बहुमत

सू की (फाइल फोटो)

ने पाई ताव:

नोबेल विजेता आंग सान सू की की पार्टी नेशनल लीग फार डेमोक्रेसी (एनएलडी) ने म्यांमार के संसदीय चुनाव में बहुमत हासिल कर लिया है। इसके साथ ही एनएलडी ने स्वंतत्र रूप से अपनी सरकार बनाने का अधिकार पा लिया है।

चुनाव रविवार को हुए थे। मतगणना के पांचवें दिन शुक्रवार को म्यांमार के संघीय चुनाव आयोग ने बताया कि 440 सदस्यीय निचले सदन की 330 सीटों पर चुनाव हुआ जिसमें से 238 पर एनएलडी को जीत मिली। 224 सदस्यीय ऊपरी सदन की 168 सीट पर चुनाव हुआ जिसमें एनएलडी ने 110 पर विजय पाई।

संसद में 25 फीसदी सीट सेना के लिए आरक्षित
म्यांमार में संसद में 25 फीसदी सीट सेना के लिए आरक्षित है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक एनएलडी ने क्षेत्रों या राज्यों की संसदों में भी अधिकांश सीट जीत ली हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक एनएलडी देश की संसद के तीन स्तरों पर कुल मिलाकर 749 सीट जीत चुकी है।

सत्तारूढ़ यूनियन सालिडारिटी एंड डेवलपमेंट पार्टी (यूएसडीपी) को तीनों स्तर पर मिलाकर 102 सीट पर ही जीत मिली है। इनके अलावा शान नेशनल लीग फार डेमोक्रेसी ने 40 सीटें जीती हैं। इसके बाद अराकान नेशनल पार्टी, तॉन्ग नेशनल पार्टी और पा-ओ नेशनल ऑर्गनाइजेशन का नंबर है।

संविधान के तहत आंग सान सू की देश की राष्ट्रपति नहीं बन सकतीं
म्यांमार के संविधान के तहत आंग सान सू की देश की राष्ट्रपति नहीं बन सकतीं क्योंकि उनके बच्चे विदेशी नागरिक हैं। एनएलडी को सरकार बनाने और राष्ट्रपति नियुक्त करने का अधिकार मिल चुका है। लेकिन, पार्टी ने अभी तक राष्ट्रपति पद के लिए चयनित व्यक्ति का नाम नहीं बताया है।

देश में सभी राजनैतिक दलों और सेना ने जनादेश का सम्मान करते हुए सत्ता के शांतिपूर्ण स्थानांतरण का वादा किया है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उम्मीद है कि नई संसद का पहला सत्र जनवरी 2016 में होगा। फरवरी में नए राष्ट्रपति का चयन होगा और मार्च में नई सरकार का गठन होगा। मौजूदा सरकार का कार्यकाल मार्च 2016 में खत्म हो रहा है।