हमास के चंगुल से बंधकों की रिहाई के बीच जो बाइडेन ने किया गाजा सीजफायर को बढ़ाने का समर्थन

फ्रांसीसी विदेश मंत्री कैथरीन कोलोना ने बीएफएमटीवी से कहा कि फ्रांसीसी नागरिकों समेत सभी बंधकों की रिहाई (Israeli Hostages Release) तक युद्धविराम को बढ़ाना "अच्छा, मददगार और जरूरी है.

खास बातें

  • लगातार बंधकों को रिहा कर रहा हमास
  • गाजा सीजफायर बढ़ने के समर्थन में जो बाइडेन
  • इजरायल पर कतर, US और मिस्र की मध्यस्थता से युद्धविराम बढ़ने का दबाव
नई दिल्ली:

इजरायल और गाजा के बीच हुए समझौते के तहत बंधकों को छोड़ने के बदले चार दिन के युद्धविराम (Gaza Ceasefire) पर सहमति बनी है. हमास फिलिस्तीनी कैदियों के बदले अब तक इजरायली बंधकों के तीसरे समूह को रिहा कर चुका है, जिनमें चार साल की अमेरिकी बच्ची भी शामिल है. हमास के एक करीबी सूत्र ने कहा कि वह सीजफायर को आगे बढ़ाने के इच्छुक थे. वहीं लगातार हो रही बंधकों की रिहाई के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गाजा सीजफायर को बढ़ाने का समर्थन किया है. चार दिन तक चलने वाला सीजफायर शुक्रवार से शुरू हुआ था. 

ये भी पढ़ें-हमास ने 17 बंधकों के तीसरे बैच को किया रिहा, 14 इजरायली और 3 विदेशी नागरिक शामिल

तीसरे बैच में हुई 17 बंधकों की रिहाई

गाजा में चार दिन के सीजफायर से बंधकों के परिवारों को राहत मिली है. उनके अपने अब वापस घर लौट रहे हैं. इज़रायली अधिकारियों ने कहा कि तीसरे बैच की रिहाई के बाद 17 बंधक इज़रायली क्षेत्र में वापस आ गए हैं. रिहा हए बंधकों में एक की उम्र 80 साल थी, उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उनके जीवन पर संकट मंडरा रहा है.

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने बताया कि हमास की कैद से छूटने वाले बंधकों में एक चार साल की अमेरिकी बच्ची अलीगैल भी शामिल है. जो बाइडेन ने कहा कि वह बच्ची भयानक आघात से गुज़री है, उनके माता-पिता की हमलों के दौरान हमास के आतंकियों मे हत्या कर दी थी. बता दें कि सीजफायर की शर्तों के साथ 3 छाई नागरिकों समेत 17 बंधकों को रिहा किया गया. 

इजरायली बंधकों के बदले 78 फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई

हमास ने कहा कि रूसी-इजरायली, रॉन क्रिवॉय को "रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के "फिलिस्तीनी मुद्दे के समर्थन" के जवाब में रिहा कर दिया गया. रिहा किए गए लोग 7 अक्टूबर को बंधक बनाए गए 240 लोगों में शामिल थे. रविवार की विज्ञप्ति में शुक्रवार से समझौते के तहत मुक्त किए गए इजरायलियों की कुल संख्या 39 हो गई. इजरायली जेल सेवा के मुताबिक पिछले दो दिनों में इजरायली जेलों से 78 अन्य फिलिस्तीनी कैदियों की रिहाई के बाद, रविवार को 39 और फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा कर दिया गया.

शुक्रवार को हमास ने मुख्य डील से अलग चौंकाते हुए10 अन्य थाई और एक फिलिपिनो को रिहा कर दिया. हमास की सशस्त्र शाखा ने रविवार शाम को एक वीडियो जारी किया, जिसमें बंधकों को वाहनों में घुसते और फिर मध्य गाजा शहर में उतरते हुए दिखाया गया. 

इजरायल पर बढ़ता दबाव

इजरायल को कतर, अमेरिका और मिस्र की मध्यस्थता से युद्धविराम को बढ़ाने के लिए दबाव का सामना करना पड़ा है. रविवार को, फ्रांसीसी विदेश मंत्री कैथरीन कोलोना ने बीएफएमटीवी से कहा कि फ्रांसीसी नागरिकों समेत सभी बंधकों की रिहाई तक युद्धविराम को बढ़ाना "अच्छा, मददगार और जरूरी है. वहीं राष्ट्रपति जो बाइडेन ने भी इसी तरह की आशा व्यक्त की "ताकि हम और अधिक बंधकों को बाहर आते देख सकें और गाजा में जरूरतमंद लोगों को अधिक मानवीय राहत पहुंचा सकें. हमास के एक करीबी सूत्र ने कहा कि वह भी युद्धविराम कोबढ़ाने का इच्छुक है.

सूत्र ने एएफपी को बताया, "हमास ने मध्यस्थों को सूचित किया कि प्रतिरोध आंदोलन मौजूदा संघर्ष विराम को दो से चार दिनों तक बढ़ाने के इच्छुक हैं." प्रतिरोध का मानना ​​है कि उस समय में 20 से 40 इजरायली कैदियों की रिहाई सुनिश्चित करना संभव है. बता दें कि युद्धविराम समझौते के तहत 150 फिलिस्तीनी कैदियों के बदले हमास की कैद से 50 बंधकों को चार दिनों में रिहा किया जाना है. हर दिन करीब 10 इजरायली बंदियों को रिहा किया जा रहा है. हालांकि इजरायल ने अपने रुख में नरमी की संभावनाओं को कम कर दिया है. पीएम नेतन्याहू ने रविवार को गाजा में कहा था, "हम अंत तक - जीत तक जारी रहेंगे."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें-एलन मस्क आज इजरायली PM बेंजामिन नेतन्याहू से करेंगे मुलाकात: रिपोर्ट



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)