कोविड-19 महामारी : बाइडन को साल के अंत तक अमेरिका में हालात सामान्य होने की उम्मीद

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने उम्मीद जताई है कि करोड़ों अमेरिकियों के टीकाकरण से साल के अंत तक देश में कोविड-19 महामारी से हालात समान्य हो जाएंगे.

कोविड-19 महामारी : बाइडन को साल के अंत तक अमेरिका में हालात सामान्य होने की उम्मीद

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन - फाइल फोटो

वाशिंगटन:

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने उम्मीद जताई है कि करोड़ों अमेरिकियों के टीकाकरण से साल के अंत तक देश में कोविड-19 महामारी से हालात समान्य हो जाएंगे. बाइडन ने अपने प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस के टीके के वृहद स्तर पर उत्पादन एवं आपूर्ति के साथ सुचारु वितरण की कोशिशों को रेखांकित करने के लिए मिशिगन के कालामाजू स्थित फाइजर के टीका उत्पादन केंद्र का दौरा किया.

बाइडन ने मिशिगन संयंत्र परिसर में सवालों का जवाब देते हुए कहा, ‘‘मुझे विश्वास है कि हम साल के अंत तक सामान्य हालात तक पहुंच जाएंगे और ईश्वर की इच्छा रही तो इस साल क्रिसमस का त्योहार पिछले साल से अलग होगा.'' इसके साथ ही उन्होंने कोई वादा करने से इनकार कर दिया.

बाइडन ने कहा, ‘‘मैं आपसे कोई वादा नहीं कर सकता हूं. वायरस के अन्य प्रकार भी आए हैं. हमें नहीं पता कि उत्पादन स्तर पर क्या होगा. चीजें बदल सकती हैं, लेकिन हम वह सब कर रहे हैं जिसका संकेत विज्ञान ने किया है और जिन्हें किया जाना चाहिए और लोग भी वह सब हासिल करने के लिए कदम उठा रहे हैं जो किया जा सकता है.''

बाइडन ने कहा कि टीका लगाया जाना और उपलब्ध होना एक ही बात नहीं है. यह हर किसी की बाह में लगा देने जैसा नहीं है. यह एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया होगी. उन्होंने कहा, ‘‘हमने जितना ऑर्डर किया था उसका अधिकतर हिस्सा वितरित किया गया है. करीब 60 करोड़ खुराक जुलाई के अंत तक मिलने की उम्मीद है, संभावित तिथि 29 जुलाई है. इसमें परिवर्तन हो सकता है. उदाहरण के लिए देखिए अभी मौसम का क्या हाल है, इससे अभी वितरण की प्रक्रिया धीमी हो गई है.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


व्हाइट हाउस ने शुक्रवार को कहा था कि अमेरिका में इस हफ्ते खराब मौसम की वजह से टीके की 60 लाख खुराक वितरित करने में देरी हुई है. बाइडन ने कहा, ‘‘इस संकट के समाप्त होने की तारीख नहीं बता सकता हूं, लेकिन यह कह सकता हूं कि हम यथासंभव वह सब कर रहे हैं जिससे देर सबेर यह संकट समाप्त हो जाए.''



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)