"प्रधानमंत्री का नाम ही काफी है, UP जीतने के लिए" : चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश भेजे गए करीबी सहयोगी का दावा

20 जून को लिखे एक खत में और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को संबोधित करते हुए एके शर्मा ने कहा कि मेरी राय में, आज भी उत्तर प्रदश में लोग मोदी जी को उसी तरह प्यार करते हैं, जैसा उन्होंने 2013-14 में किया था. आने वाले यूपी विधानसभा चुनाव  में जीत के लिए उनका नाम ही काफी है.

एके शर्मा ने यूपी चुनावों को लेकर कही ये बात

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में चुनावी बिसात बिछनी शुरू हो गई है. बीजेपी के नए उपाध्यक्ष और पूर्व आईएएस अधिकारी एके शर्मा ने सोमवार को कहा कि राज्य के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उसी तरह प्यार करते हैं, जैसे उन्होंने 2013-14 में किया था. 20 जून को लिखे एक खत में और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मेरी राय में, आज भी उत्तर प्रदश में लोग मोदी जी को उसी तरह प्यार करते हैं, जैसा उन्होंने 2013-14 में किया था. आने वाले यूपी विधानसभा चुनाव  में जीत के लिए उनका नाम ही काफी है. साथ ही पार्टी प्रमुखों और वरिष्ठों का आशीर्वाद ही काफी है.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उत्तर प्रदेश इकाई के नवनियुक्त उपाध्यक्ष एवं विधान परिषद सदस्य एके शर्मा ने सोमवार को दावा किया कि राज्य में अगले साल प्रस्तावित विधानसभा चुनाव में पार्टी को पहले से भी ज्यादा सीटें मिलेंगी. पार्टी का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाये जाने के बाद शर्मा ने प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पार्टी के राष्ट्रीय और राज्य नेतृत्व का आभार जताया.


 उन्होंने सिंह को लिखे एक पत्र में कहा है कि मेरा दृढ़ विश्वास है कि राज्य में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में आपके (सिंह) और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा को पहले से भी ज्यादा सीटें मिलेंगी. उन्होंने कहा कि मैं अपनी पार्टी के माध्यम से जनसेवा का कार्य करता रहूंगा. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वर्ष 1988 बैच के गुजरात कैडर के भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी रहे शर्मा ने पत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व और उनके कार्यों की भी सराहना की. शर्मा ने इस वर्ष की शुरुआत में अपनी सेवा पूर्ण होने के करीब दो वर्ष पहले ही स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली थी और इसके बाद उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। जनवरी में ही उन्हें पार्टी ने विधानपरिषद का सदस्य बना दिया. पिछले दिनों उन्हें पार्टी का प्रदेश उपाध्यक्ष नियुक्त किया गया था.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)