मिसयूज़ तो नहीं हो रहा आपका Aadhaar Card? ऐसे चेक करें वेरिफिकेशन हिस्ट्री, आज ही लें ये प्रोटेक्शन

UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट पर आपको ‘Aadhaar Authentication History' टूल मिलेगा, जिसके जरिए आप आधार कार्ड की डिटेल्स चेक कर सकेंगे. इस टूल से आपको पता चलता है कि आपका आधार कहां-कहां वेरिफिकेशन के लिए यूज हुआ है.

मिसयूज़ तो नहीं हो रहा आपका Aadhaar Card? ऐसे चेक करें वेरिफिकेशन हिस्ट्री, आज ही लें ये प्रोटेक्शन

आधार कार्ड को फ्रॉड से बचाएं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

यूनीक आइडेंटिफिकेशन आधार (Aadhaar) आपका अहम दस्तावेज है. ऐसे में इसकी सुरक्षा जरूरी है, ये आपको भी पता होगा. आधार का ऑपरेशन देखने वाली संस्था ‘The Unique Identification Authority of India' यानी UIDAI आपको ऐसी सुविधा देता है कि आप यह चेक कर सकें कि आपका आधार कार्ड कहां-कहां इस्तेमाल हुआ है. UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट पर आपको ‘Aadhaar Authentication History' टूल मिलेगा, जिसके जरिए आप आधार कार्ड की डिटेल्स चेक कर सकेंगे. इस टूल से आपको पता चलता है कि आपका आधार कहां-कहां वेरिफिकेशन के लिए यूज हुआ है.

वहीं हम आपको यह भी बता रहे हैं कि आप क्या तरीका अपनाकर आधार कार्ड के साथ होने वाले फ्रॉड से बच सकते हैं.

आधार की ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री ऐसे चेक कर सकते हैं- 

स्टेप 1 : सबसे पहले UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट https://uidai.gov.in/ पर जाइए. 

स्टेप 2 : ‘My Aadhaar' टैब में आपको ‘Aadhaar Services' का ऑप्शन दिखाई देगा. यहां ‘Aadhaar Authentication History' विकल्प पर क्लिक करिए.

स्टेप 3 : यहां से एक नया पेज खुलेगा, जहां आपको अपना 12 डिजिट का आधार नंबर डालिए.

स्टेप 4 : यहां आपको ‘CAPTCHA Code' डालना होगा.

स्टेप 5 : यहां से‘Generate OTP' बटन पर क्लिक करिए, जिसके बाद दूसरा पेज खुलेगा.

स्टेप 6 : पेज पर आपको जो जानकारी देखनी है, उसकी अवधि चुनने या फिर पिछले ट्रांजैक्शन की डिटेल्स देखने के लिए विकल्प मिलेंगे.

स्टेप 7 :  यहां आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आए OTP को डालना होगा.

स्टेप 8 : इसके बाद आपको पिछले कुछ वक्त में आधार कार्ड का जहां कहीं भी ऑथेंटिकेशन हुआ होगा, उसकी तारीख, वक्त और ऑथेंटिकेशन के टाइप की डिटेल्स मिल जाएंगी. ध्यान दें कि आपको एक बार में 50 ही ट्रांजैक्शन की डिटेल्स पता चल सकेंगी. 

ये ट्रांजैक्शन देखकर आप पता लगा सकते हैं कि ये सारे टांजैक्शन आपने खुद किए हैं, या कोई संदिग्ध गतिविधि हुई है.

मास्क्ड आधार करेगा सुरक्षा

सुरक्षा को देखते हुए UIDAI ने आधार कार्ड का फोटोकॉपी देने के बजाय  'मास्क्ड आधार' (Masked Aadhaar) का इस्तेमाल करने की सलाह दी है. मास्क्ड आधार में  आधार संख्या के केवल अंतिम 4 अंक ही दिखाई देते हैं. इसे UIDAI की आधिकारिक वेबसाइट https://myaadhaar.uidai.gov.in से डाउनलोड किया जा सकता है. मास्क आधार बायोमेट्रिक आईडी के सिर्फ आखिरी 4 डिजिट को दिखाता है बता दें कि बिना लाइसेंस वाली निजी संस्थाएं जैसे कि होटल या फिल्म हॉल को आधार कार्ड की कॉपी एकत्रित करने या रखने की अनुमति नहीं है.

किसी भी आधार संख्या के अस्तित्व को https://myaadhaar.uidai.gov.in/verifyAadhaar पर सत्यापित किया जा सकता है. प्रधाकरण के मुताबिक, ऑफ़लाइन सत्यापित करने के लिए, आप एमआधार मोबाइल एप्लिकेशन में क्यूआर कोड स्कैनर का उपयोग करके ई-आधार या आधार पत्र या आधार पीवीसी कार्ड पर क्यूआर कोड को स्कैन कर सकते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video : मास्क्ड आधार क्या होता है और आपको इसकी जरूरत क्यों पड़ सकती है?