'DCGI' - 43 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | शुक्रवार अप्रैल 23, 2021 04:12 PM IST
    फार्मा कंपनी Zydus ने एक बयान जारी कर बताया कि उसकी Pegylated Interferon alpha-2b, ‘Virafin’ (जिसे PegIFN भी कहते हैं) को भारतीय ड्रग्स नियामक संस्था DCGI से इमरजेंसी यूज को लेकर मंजूरी मिल गई गई है. इससे वयस्कों में कोविड के हल्के संक्रमण का इलाज किया जा सकेगा.
  • India | मंगलवार अप्रैल 13, 2021 02:37 PM IST
    रूस की इस वैक्सीन को पांच फार्मा कंपनियां तैयार करेंगी और एक साल में कुल 850 मिलियन डोज बनाए जाएंगे. फिलहाल अप्रैल के अंत तक वैक्सीन की लिमिटेड डोज़ उपलब्ध हो जाएंगी.
  • India | मंगलवार अप्रैल 13, 2021 09:38 AM IST
    कोरोना संक्रमण के बिगड़ते हालातों के बीच देश को और वैक्सीन के रुप में थोड़ी राहत जरूर मिली है. मंगलवार को कोविड रोधी टीके ‘SPUTNIK V' को भारत के औषधि महानियंत्रक (DGCI) से मंजूरी मिल गई. ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के वी.जी. सोमानी ने यह मंज़ूरी दी है. देश में आपात इस्तेमाल के लिए इस टीके का रूस से आयात किया जाएगा. बताते चलें कि . देश में भारत बायोटेक के ‘कोवैक्सीन' और सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रोजेनेका के ‘कोविशील्ड' टीके को पहले ही मंजूरी मिल चुकी है. इस तरह यह भारत के पास कोरोना संक्रमण के खिलाफ तीसरी वैक्सीन होगी. 
  • India | मंगलवार अप्रैल 13, 2021 01:16 PM IST
    COVID-19 Cases Updates: कोरोना विस्फोट के कारण देश में अब अफरा-तफरी जैसे हालात पैदा हो गए हैं. देश में लगातार सातवें दिन एक लाख से ज्यादा मामले और लगातार तीसरे दिन 1.5 लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं. मंगलवार को देश में कोरोना के 1,61,736 नए मामले सामने आए हैं. इसके अलावा कोरोना के कारण 879 मरीजों की मौत हुई है. अस्पतालों में बेड और श्मशानों में जमीन कम पड़ गई है. देश के लगभग आधे हिस्से में नाइट कर्फ्यू के साथ अलग अलग तरह की पाबंदियां लगी हुई हैं लेकिन कोरोना के मामले हर रोज नए रिकॉर्ड बना रहे हैं. कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या के लिहाज से ब्राजील को पीछे छोड़कर भारत दूसरे स्थान पर पहुंच गया है. इन सबके बीच एक राहत की खब ये है कि देश को कोरोना के खिलाफ जंग में एक वैक्सीन का साथ और मिल गया है. रूसी वैक्सीन SPUTNIK V को DCGI से भी इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है. इस वैक्सीन की प्रभावशीलता 91.6 प्रतिशत है, जो कि मॉडर्ना और फाइजर शॉट्स के बाद सबसे अधिक है. तो चलिए देखते हैं देश में इस वक्त कोरोना से जुड़े 10 बड़े अपडेट्स
  • India | मंगलवार अप्रैल 13, 2021 06:45 AM IST
    देश में भारत बायोटेक के ‘कोवैक्सीन’ और सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड-एस्ट्रोजेनेका के ‘कोविशील्ड’ टीके को पहले ही आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिल चुकी है. ‘स्पूतनिक वी’ के तीसरे चरण के परीक्षण के अंतरिम विश्लेषण में इसके 91.6 प्रतिशत प्रभावी होने की बात सामने आई जिसमें रूस के 19,866 स्वयंसेवियों पर किए गए परीक्षण का डेटा शामिल किया गया.
  • India | गुरुवार मार्च 11, 2021 07:35 PM IST
    भारत बायोटेक की वैक्‍सीन COVAXIN अब क्‍लीनिकल ट्रायल मोड' में नहीं है. डीसीजीआई ने इसे क्‍लीनिकल ट्रायल से बाहर रखने की मंजूरी दी है. COVAXIN के फेज-3 के ट्रायल के डाटा के आधार पर विशेषज्ञ कमेटी की ओर से की गई सिफारिश के बाद DCGI ने यह निर्णय लिया है. 
  • India | शनिवार जनवरी 16, 2021 02:26 PM IST
    भारत में आज (16 जनवरी, शनिवार) से कोरोनावायरस (Coronavirus) के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण (Vaccinations) अभियान शुरू होने जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए सुबह 10:30 बजे देश में पहले चरण के COVID-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत करेंगे. लगभग सभी राज्यों में वैक्सीन पहुंचाई जा चुकी है. DCGI की ओर से आपातकालीन इस्तेमाल के लिए सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन (Covaxin) को मंजूरी दी गई है. पहले फेज़ में हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन दी जाएगी. पूरे देश में एक साथ टीकाकरण अभियान की शुरुआत होगी और सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में इसके लिए कुल 3,006 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं.
  • India | सोमवार जनवरी 4, 2021 11:10 PM IST
    Coronavirus: ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से सिरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (Serum Institute Of India) को कोविड वैक्सीन (Covid Vaccine) बेचने/वितरण करने के लिए मैन्युफैक्चरिंग का लाइसेंस मिला है. लाइसेंस के मुताबिक आपात स्थिति में सीमित इस्तेमाल के लिए वैक्सीन लगाने की मंजूरी दी गई है. ये वैक्सीन टीकाकरण कार्यक्रम के लिए सप्लाई की जाएगी. 
  • India | सोमवार जनवरी 4, 2021 07:42 PM IST
    भारत बायोटेक के चेयरमैन डॉ. कृष्‍णा इल्‍ला ने सोमवार को मीडिया ब्रीफिंग में कहा, कहा, "हम पर अनुभवहीन होने का आरोप न लगाएं, हम कई टीकों के निर्माता हैं" उन्‍होंने कहा, 'यह कहना गलत है कि हम डेटा को लेकर पारदर्शी नहीं हैं'  उन्‍होंने कहा कि हमारे ऊपर सवाल उठाना गलत है क्योंकि हम बहुत पारदर्शी तरीके से काम कर रहे हैं.
  • India | सोमवार जनवरी 4, 2021 03:48 PM IST
    Coronavirus vaccine: ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने जिन दो टीकों के सीमित आपात उपयोग की मंजूरी दी है, उनमें ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्राजेनेका के द्वारा सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ मिलकर तैयार कोविशील्ड तथा घरेलू दवा कंपनी भारत बायोटेकके द्वारा विकसित पूर्णत: स्वदेशी कोवैक्सीन शामिल है.
और पढ़ें »
'DCGI' - 19 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com