'रणदीप गुलेरिया' - 35 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | सोमवार मई 3, 2021 05:36 PM IST
    एम्स निदेशक ने कहा कि एक सीटी स्कैन 300-400 चेस्ट एक्सरे के बराबर है. बार-बार सी.टी. स्कैन करवाने पर कैंसर का रिस्क होता है. पहले चेस्ट एक्सरे कराने के बाद अगर जरूरत हो और अगर हॉस्पिटल में हों तो सी.टी. स्कैन कराएं.
  • India | रविवार मई 2, 2021 01:04 AM IST
    एम्स चीफ डॉ. रणदीप गुलेरिया (AIIMS Chief Dr Randeep Guleria ) ने शनिवार को एनडीटीवी से बातचीत के दौरान कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को हराने के लिए  सख्त लॉकडाउन (Aggressive Lockdowns) की जरूरत है जैसे पिछले साल मार्च में लगाया गया था.
  • India | रविवार अप्रैल 25, 2021 08:54 PM IST
    AIIMS निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया (Dr Randeep Guleria) ने कहा कि देश में 10-15 फीसदी लोग ही हैं, जिन्हें गंभीर संक्रमण  होता है और जिन्हें रेमडेसिविर, ऑक्सीजन या प्लाज्मा की जरूरत पड़ सकती है. 
  • India | शनिवार अप्रैल 24, 2021 08:29 PM IST
    कोरोना के रोजाना के मामले भारत में मार्च के मध्य में 25 हजार के करीब थे, जो अब बढ़कर 3.5 लाख तक पहुंच गए हैं. AIIMS प्रमुख डॉ. रणदीप गुलेरिया ने एनडीटीवी से कोविड महामारी के बारे में बात की
  • India | गुरुवार अप्रैल 22, 2021 05:29 AM IST
    Coronavirus: देश के शीर्ष डॉक्टरों ने बुधवार को कहा कि ''ऑक्सीजन दवा के जैसी है'' और इसे रुक-रुक कर लेना फायदेमंद नहीं है. उन्होंने कहा कि ऐसा कोई डाटा नहीं है, जो दर्शाता हो कि यह कोविड-19 रोगियों के लिए किसी भी तरह मददगार है या होगी, लिहाजा यह बेकार की सलाह है. एम्स के डॉक्टर रणदीप गुलेरिया (Doctor Randeep Guleria) ने कहा कि कोविड-19 के 85 प्रतिशत रोगी रेमडेसिविर आदि के रूप में बिना किसी विशिष्ट उपचार के ठीक हो जाएंगे. डॉ गुलेरिया ने कहा, ''अधिकतर को जुकाम, गले में खराश आदि जैसे सामान्य लक्षण होंगे और पांच से सात दिन में वे इन लक्षणों के इलाज के जरिए उबर जाएंगे. केवल 15 प्रतिशत रोगियों को ही बीमारी के मध्यम चरण का सामना करना पड़ सकता है.''
  • India | रविवार अप्रैल 18, 2021 06:43 PM IST
    AIIMS (दिल्ली) के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा कि हमें ज़्यादा सतर्क रहना चाहिए था... कोरोना केस काफी कम हो गए थे, और वैक्सीन के आने पर लापरवाही बरती गई.
  • India | शनिवार अप्रैल 10, 2021 11:05 AM IST
    कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच वैक्सीन की कमी का मामला भी सामने आ रहा है. पिछले दिनों सीरम इंस्टीट्यूट के प्रमुख अदार पूनावाला ने एक चर्चा के दौरान यह माना था कि उसे वैक्सीन उत्पादन में तेजी लाने के लिए तीन हजार करोड़ रुपये की जरुरत होगी. उनके इस बयान पर एम्स प्रमुख रणदीप गुलेरिया ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट को उत्पादन बढ़ाने के लिए करीब 6 महीने पहले ध्यान देना चाहिए था. उन्होंने कहा कि इस स्थिति को समझने के लिए किसी रॉकेट साइंस की जरूरत नहीं थी कि आने वाले समय में ऐसी स्थिति पैदा होगी. डॉ गुलेरिया के अनुसार हर मैन्युफैक्चर्स को डिमांड और अपनी विनिर्माण क्षमता के बारे में पता होता है. लिहाजा वो पहले से तैयारी कर सकते थे. 
  • India | सोमवार अप्रैल 5, 2021 10:12 PM IST
    एम्स के प्रमुख डॉक्टर रणदीप गुलेरिया (Dr Randeep Guleria) का कहना है कि जो कंटेनमेंट जोन पिछले साल चरणबद्ध तरीके से हटा दिए गए थे, उन्हें वापस ज्यादा संक्रमण वाले इलाकों में लागू किए जाने की जरूरत है.
  • India | रविवार अप्रैल 4, 2021 05:47 PM IST
    Covid-19 Cases India : भारत में पिछले 24 घंटे में सितंबर मध्य के बाद से कोरोना के सबसे ज्यादा 93,249 मामले सामने आए हैं. इसी के साथ कोरोना के कुल मामले 1.24 करोड़ पार कर गए हैं.
  • India | गुरुवार अप्रैल 1, 2021 01:23 AM IST
    देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के नए मामलों में आई तेजी ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है. कोरोना को काबू करने के लिए एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं. इस बीच, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा कि देश में कोरोना के मामलों में उछाल नए स्ट्रेन की वजह से है और यह स्थिति ठीक ब्रिटेन जैसी ही है जब वहां पर क्रिसमस के आसपास वायरस एक म्यूटेशन के दौर से गुजर रहा था.      
और पढ़ें »
'रणदीप गुलेरिया' - 59 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com