पंजाब में मालगाड़ियों के रद्द होने से यूरिया की कमी, गेहूं, सब्जियों की बुवाई प्रभावित

पंजाब में मालगाड़ियों के रद्द होने से गेहूं और सब्जियों की फसलों के लिए यूरिया की भारी कमी हो गई है, और राज्य सरकार के अधिकारियों का कहना है कि इस वजह से रबी फसल की बुवाई प्रभावित हो सकती है.

पंजाब में मालगाड़ियों के रद्द होने से यूरिया की कमी, गेहूं, सब्जियों की बुवाई प्रभावित

प्रतीकात्मक तस्वीर

चंडीगढ़:

पंजाब में मालगाड़ियों के रद्द होने से गेहूं और सब्जियों की फसलों के लिए यूरिया की भारी कमी हो गई है, और राज्य सरकार के अधिकारियों का कहना है कि इस वजह से रबी फसल की बुवाई प्रभावित हो सकती है.

किसानों को रबी फसलों की बुवाई के लिए यूरिया और डीएपी (डायमोनियम फॉस्फेट) की जरूरत होती है. कृषि विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को कहा, ‘‘राज्य में यूरिया की कमी है.''अधिकारियों के अनुसार पंजाब में रबी सत्र के लिए 14.50 लाख टन यूरिया की जरूरत है, लेकिन राज्य में केवल 75,000 टन यूरिया ही उपलब्ध है. उन्होंने कहा कि चार लाख टन यूरिया की खेप अक्टूबर में आने वाली थी, लेकिन केवल एक लाख टन ही पहुंची.


नवंबर के लिए राज्य में चार लाख टन यूरिया का आवंटन किया गया है. गेहूं की बुवाई का सत्र नवंबर में शुरू होगा. रबी सत्र के दौरान राज्य में लगभग 35 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में गेहूं की बुवाई होने की उम्मीद है. पंजाब को गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों से रेलगाड़ियों के माध्यम से यूरिया की आपूर्ति होती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


केंद्र के नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों ने कुछ रेल पटरियों को बाधित कर दिया है, जिसके मद्देनजर रेलवे ने पंजाब में मालगाड़ी सेवाओं को निलंबित कर दिया. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने माल ढुलाई सेवाओं को बहाल करने के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल से हस्तक्षेप करने के लिए कहा था, जिस पर गोयल ने पंजाब सरकार से रेलगाड़ियों और चालक दल के सदस्यों की सुरक्षा का आश्वासन मांगा.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)