Olympic 2020: कल पाकिस्तान का भाला दूर जाएगा या भारत का, नीरज चोपड़ा की सोने की जंग बनी बहुत रोमांचक

Olympics 2020: बता दें कि फाइनल में दुनिया भर के शीर्ष 12 एथलीट भालाफेंक में अपने भाले की शक्ति दिखाएंगे. एक दिन पहले ही नीरज चोपड़ा ने 86.65 मी. दूरी तय करते हुए और ग्रुप नंबर एक पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफायी किया था. चोपड़ा ने तय क्वालीफाइंग मार्क से कहीं आगे भाला फेंक स्वत: ही फाइनल में प्रवेश कर लिया था. क्वालीफाइंग मार्क 83.50 मी. था. 

Olympic 2020: कल पाकिस्तान का भाला दूर जाएगा या भारत का, नीरज चोपड़ा की सोने की जंग बनी बहुत रोमांचक

Olympics 2020: शुक्रवार को पूरे हिंदुस्तान की नजरें नीरज चोपड़ा पर रहेंगी

खास बातें

  • सबसे ज्यादा दूर भाला फेंक कर क्वालीफाई किया था नीरज ने
  • ग्रुप ए में नीरज रहे थे अव्वल नंबर
  • पाकिस्तनी एथलीट ने किया था ग्रुप बी टॉप
नयी दिल्ली:

Olympics 2020 (August 6th): तोक्यो में चल रहा ओलिंपिक महाकुंभ (Tokyo Olympic 2020) अब अपने अंतिम पड़ाव की ओर चल पड़ा है. भारत के लिहाज से अभी तक सफलता वैसी नहीं मिली है, जिसकी उम्मीद लगायी गयी थी या आंकलन किया गया था. बहरहाल, अभी पदकों की उम्मीदें खत्म नहीं हुयी हैं. शनिवार सुबह एथलेटिक्स में भाला फेंक प्रतिस्पर्धा में करोड़ों भारतीयों की नजरें युवा नीरज चोपड़ा पर लगी हुई हैं. और हां इसी वर्ग में पाकिस्तानी नदीम अरशद भी फाइनल में जोर-आजमाइश करने जा रहे हैं. ऐसे में करोड़ों भारतीयों की नजरें इस मुकाबले पर लगी हुयी हैं और ये चर्चा कर रहे है कि किसका भाला दूर जाएगा. पाकिस्तान का या भारत का. ऐसे में यह मुकाबला बहुत ही आकर्षण का केंद्र बन गया है. यह मुकाबला  शनिवार को भारतीय समयानुसार शाम 4:30 बजे से खेला जाएगा. 

बता दें कि फाइनल में दुनिया भर के शीर्ष 12 एथलीट भालाफेंक में अपने भाले की शक्ति दिखाएंगे. एक दिन पहले ही नीरज चोपड़ा ने 86.65 मी. दूरी तय करते हुए और ग्रुप नंबर एक पर रहते हुए फाइनल के लिए क्वालीफायी किया था. चोपड़ा ने तय क्वालीफाइंग मार्क से कहीं आगे भाला फेंक स्वत: ही फाइनल में प्रवेश कर लिया था. क्वालीफाइंग मार्क 83.50 मी. था. 

वहीं, पाकिस्तान के नदीम अरशद ने ग्रुप बी से टॉप किया था. उन्होंने 85.16 मी. की दूरी पर भाला फेंक कर क्वालीफाई किया था. जाहिर है कि चोपड़ा और अरशद के बीच अंतर ज्यादा नहीं है. अब शुक्रवार को पाकिस्तान का भाला आगे गिरेगा, या भारत का, इसके लिए आप सुबह उठकर टक्कर जरूर देखें. 

वहीं, बता दें कि दूसरे नंबर वर जर्मनी के वेटटर जोहानेस भी हैंक, जिन्होंने 85.64 मी. की दूरी तय की थी, लेकिन अगर सभी 12 खिलाड़ियों में करियर में निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बात करें, तो  यह खिलाड़ी सबसे अव्वल है. वेटर 97.76 मी. भाला फेंक चुके हैं, तो सीजन (सत्र) बेस्ट का प्रदर्शन भी उनका सर्वश्रेष्ठ (96.29 मी.) रहा है. कुल मिलाकर स्वर्ण की टक्कर बहुत ही रोमांचक होने जा रही है. 


VIDEO: लवलीना ने भारत को कांस्य पदक दिलाया​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com